'बुआ-बबुआ' के फेसबुक पेज पर बवाल, अखिलेश यादव की छवि खराब करने के आरोप में केस दर्ज

बुआ-बबुआ का नारा तब सामने आया था जब बीएसपी प्रमुख मायावती और अखिलेश ने 2019 के आम चुनाव में गठबंधन किया था. कुछ दिन पहले अखिलेश पर एक कार्टून बनाकर पोस्ट किया गया था.

'बुआ-बबुआ' के फेसबुक पेज पर बवाल, अखिलेश यादव की छवि खराब करने के आरोप में केस दर्ज

अखिलेश और मायावती की जोड़ी को चुनावी गठबंधन पर बुआ बबुआ का नाम दिया गया था(फाइल)

कन्नौज :

फेसबुक पर बुआ-बबुआ के नाम से फेसबुक पेज (Facebook Page) को लेकर विवाद पैदा हो गया है. समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) की छवि खराब करने का आरोप लगाते हुए इस मामले में एक केस भी दर्ज करा दिया गया है. फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग और 49 अन्य लोगों के खिलाफ एक स्थानीय कोर्ट के आदेश पर मामला दर्ज किया गया है.  कन्नौज पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि जांच के दौरान मार्क जुकरबर्ग (Mark Zuckerberg) का नाम हटा दिया गया है. जबकि फेसबुक पेज के व्यवस्थापक (एडमिन) के खिलाफ जांच की जा रही है.

'भाई, तुम दंगे कराते.. हम दंगल', अनुराग ठाकुर का अखिलेश यादव पर सियासी दांव

 ठठिया के थाना प्रभारी प्रयाग नारायण बाजपेयी ने कहा कि मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट धर्मवीर सिंह ने सोमवार को पुलिस को मामला दर्ज करने का निर्देश दिए थे. इसके बाद सराहती गांव निवासी अमित कुमार की शिकायत पर ठठिया थाने में केस दर्ज किया गया था.  कोर्ट के समक्ष अपनी अर्जी में अमित कुमार ने कहा था कि फेसबुक पर 'बुआ बबुआ' नाम से एक पेज है. इस पेज से समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की छवि खराब करने की कोशिश की जा
रही है.

'मैं किसका एजेंट हूं, आपस में तय कर लें' : सपा, कांग्रेस, BJP के 'अपशब्दों' पर बोले असदुद्दीन ओवैसी


कुछ दिन पहले अखिलेश पर एक कार्टून बनाकर पोस्ट किया गया था. बुआ-बबुआ का नारा तब सामने आया था जब बीएसपी प्रमुख मायावती और अखिलेश ने 2019 के आम चुनाव में गठबंधन किया था. अमित कुमार ने बताया कि इस मामले में 25 मई को एक रजिस्टर्ड पोस्ट के माध्यम से एसपी को एक आवेदन भेजा गया था, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसके बाद उन्होंने अदालत का रुख किया और केस दर्ज करने की गुजारिश की. अखिलेश यादव के बाद उनकी पत्नी डिंपल यादव 2012 और 2014 में कन्नौज से सांसद चुनी गईं थीं. 2019 के चुनाव में इस सीट से भाजपा के सुब्रत पाठक विजयी हुए थे.