मुंबई में 18+ के लोगों के लिए कोरोना टीकाकरण 1 मई को नहीं हो पाएगा शुरू : शीर्ष अधिकारी

उन्‍होंने कहा कि सीनियर सिटीजंस को इस बात की चिंता करने की जरूरत नहीं है कि वे सभी वयस्‍कों के लिए टीकाकरण का नया चरण शुरू होने पर टीका लगवाने से वंचित रह जाएंगे.

मुंबई में 18+ के लोगों के लिए कोरोना टीकाकरण 1 मई को नहीं हो पाएगा शुरू : शीर्ष अधिकारी

Corona Vaccination in Mumbai: तीसरे चरण का टीकाकरण अभियान 1 मई से प्रारंभ होगा

मुंंबई:

'महानगर मुंबई में 18 से 44 वर्ष की उम्र के लोगों का कोरोना टीकाकरण 1 मई को वैक्‍सीन की कमी के कारण शुरू नहीं हो पाएगा.' एक शीर्ष अधिकारी ने गुरुवार को ट्वीट करके यह जानकारी दी. बृहन्‍नमुंबई म्‍युनि‍सिपल कार्पोरेशन (BMC) की एडीशनल म्‍युनि‍सिपल कमिश्‍नर अश्विनी भिडे ने ट्वीट में लिखा, 'नए आयु वर्ग के लिए वैक्‍सीनेशन तभी शुरू हो पाएगा जब पर्याप्‍त वैक्‍सीन उपलब्‍ध होगी, ठीक 1 मई को नहीं.'उन्‍होंने कहा कि सीनियर सिटीजंस को इस बात की चिंता करने की जरूरत नहीं है कि वे सभी वयस्‍कों के लिए टीकाकरण का नया चरण शुरू होने पर टीका लगवाने से वंचित रह जाएंगे.

यूपी में अब शुक्रवार को रात 8 बजे से मंगलवार को सुबह 7 बजे तक साप्ताहिक लॉकडाउन होगा

उन्‍होंने ट्वीट किया, 'कृपया हमारे पास वैक्‍सीन का पर्याप्‍त स्‍टॉक आने तक का इंतजार करिए और तब आप लंबी लाइन में लगकर इंतजार किए बिना टीका लगवा सकेंगे. हम इस बारे में और जानकारी देना जारी रखेंगे. कृपया अपना ध्‍यान रखें. टीकाकरण कोंद्र पर डबल मास्‍क पहनें. इस ट्वीट के साथ उन्‍होंने बताया कि भारत की वित्‍तीय राजधानी में वृहद आयुग्रुप के लिए वैक्‍सीनेशन नियत तारीख को शुरू नहीं हो पाएगा.

'देश के सभी नागरिकों को मुफ्त में लगाएं वैक्सीन', श्रामिक संगठनों ने PM मोदी को चिट्ठी लिखकर की अपील


अश्विनी भिडे ने दोहराया कि 45+ के लोगों के लए टीकाकरण जारी रहेगा. उन्‍होंने ट्वीट में लिखा, 'मुंबई में सभी सीनियर सिटीजंस से आग्रह है कि वे टीकाकरण केंद्र पर भीड़ न लगाएं या लंबी लाइन में न लगें. वैक्‍सीन की सप्‍लाई में कमी है और यह सभी जगहों पर पर्याप्‍त मात्रा में उपलब्‍ध नहीं है लेकिन बेफिक्र रहें सभी 45+ के लोगों को टीका लगेगा.'उन्‍होंने कहा, 'यहां तक कि जब 18 से 44 वर्ष के नए आयुवर्ग के लिए टीकाकरण शुरू होगा तब भी उपलब्‍ध केंद्रों में 45+ के लोगों को टीका लगना जारी रहेगा. BMC नए चरण के लिए कम से कम 500 और सरकारी और प्राइवेट टीकाकरण केंद्रों को शुरू करेगा यानी 45+ के लिए टीकाकरण से कोई समझौता नहीं किया जाएगा और यह काम धीमा नहीं होगा. 'वैक्‍सीन की कमी की यह आधिकारिक स्‍वीकारोक्ति ऐसे समय आई है जब एक याचिकाकर्ता ने बॉम्‍बे हाईकोर्ट में कहा है कि उसने वैक्‍सीन के लिए अपॉइंटमेंट लेने की कोशिश की लेकिन जुलाई तक 'स्‍थान' खाली नहीं है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


US: कोरोना वैक्सीन लगवाने वाले ज्यादातर बुजुर्गों को नहीं पड़ रही अस्पताल जाने की जरूरत