असम के उग्रवादी संगठन DNLA ने तीन महीने के लिए एकतरफा संघर्ष विराम की घोषणा की

असम (Assam)में सक्रिय उग्रवादी संगठन (Extremist Organization) डिमासा नेशनल लिबरेशन आर्मी (Dimasa National Liberation Army) ने तीन महीने के लिए एकतरफा संघर्षविराम (Ceasefire) की घोषणा की है.

असम के उग्रवादी संगठन DNLA ने तीन महीने के लिए एकतरफा संघर्ष विराम की घोषणा की

असम के उग्रवादी संगठन DNLA ने तीन महीने के लिए एकतरफा संघर्षविराम की घोषणा की है.(फाइल)

गुवाहाटी/हाफलोंग:

असम (Assam) के दीमा हसाओ जिले में सक्रिय उग्रवादी संगठन (Extremist Organization) डिमासा नेशनल लिबरेशन आर्मी (Dimasa National Liberation Army) ने तीन महीने के लिए एकतरफा संघर्षविराम (Ceasefire) की घोषणा की है. एक दिन पहले हस्ताक्षरित विज्ञप्ति में कहा गया कि संगठन ने असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा (Assam CM Himanta Biswa Sarma) द्वारा "सद्भावना संकेत और शांति के आह्वान के सकारात्मक प्रतिक्रिया के रूप में" एकतरफा संघर्षविराम का फैसला किया है. विज्ञप्ति की प्रति मीडिया को बुधवार को उपलब्ध कराई गई.

संगठन के प्रचार सचिव मुंगश्री रिंग्समाई दिमासा द्वारा हस्ताक्षरित विज्ञप्ति में कहा गया है कि संघर्षविराम मंगलवार से ही लागू हो गया है. संघर्षविराम "असम सरकार और भारत सरकार के साथ शांति वार्ता के लिए माहौल बनाने" की खातिर है.

बता दें कि इसी साल मई में असम-नगालैंड बॉर्डर पर पश्चिम कार्बी आंगलोंग जिले में सुरक्षाबलों ने एक ऑपरेशन में 6 आतंकियों का मार गिराया गया है. इन आतंकियों का संबंध दिमासा नेशनल लिबरेशन आर्मी से बताया गया था.


इसके साथ ही बड़ी मात्रा में हथियार और गोला बारूद भी बरामद किया गया था. 19 मई को डीएनएलए के उग्रवादियों ने एक युवक की हत्या कर दी थी, जिसके बाद सुरक्षा बलों ने उसके खिलाफ अभियान छेड़ा था. डीएनएलए असम के दीमा हासाओ और कार्बी आंगालोंग जिलों में खासा एक्टिव रहता है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- - ये भी पढ़ें - -
* असम में दो नौकाओं की जबरदस्त टक्कर, एक की मौत, 87 लोग बचाए गए, दो लापता
* अब असम के नेशनल पार्क से भी हटाया जाएगा राजीव गांधी का नाम
* ममता बनर्जी के लिए 'रेड कार्पेट' बिछाने वाले हिमंता बिस्वा सरमा के बयान पर भड़की TMC, बताया 'दलबदलू'