असम में कौन होगा BJP से मुख्यमंत्री उम्मीदवार, CM सर्बानंद सोनोवाल ने दिया यह जवाब

मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा कि हमने चुनाव से पहले 100 से ज़्यादा सीट लाने का जो लक्ष्य रखा है उसे हासिल करने के लिए हम राज्य में एक जगह से दूसरी जगह जा रहे हैं.

असम में कौन होगा BJP से मुख्यमंत्री उम्मीदवार, CM सर्बानंद सोनोवाल ने दिया यह जवाब

असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल (फाइल फोटो)

नयी दिल्ली:

असम में होने चा रहे विधानसभा चुनाव (Assam Assembly Election 2021) को लेकर पार्टियों का चुनाव प्रचार जोरों पर है. इसके साथ ही राज्य में चुनाव को लेकर सवाल उठ रहे हैं कि बीजेपी की ओर से मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार कौन होगा? इस सवाल का जवाब राज्य के मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता सर्बानंद सोनोवाल ने दिया है. सामाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत के दौरान सीएम सर्बानंद सोनोवाल ने मंगलावार को कहा कि यह सवाल आप संसदीय बोर्ड से पूछिए, मुझसे क्यों पूछ रहे हैं? हम भाजपा के कार्यकर्ता हैं और राज्य में भाजपा की सरकार बनाना हमारा लक्ष्य है. सीएम कौन बने ये सवाल नहीं है.

Assam Assembly Election 2021: असम के लिए BJP ने जारी किया घोषणा-पत्र, इन 10 संकल्पों के जरिए खोला वादों का पिटारा

मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा कि हमने चुनाव से पहले 100 से ज़्यादा सीट लाने का जो लक्ष्य रखा है उसे हासिल करने के लिए हम राज्य में एक जगह से दूसरी जगह जा रहे हैं और असम को देश में सबसे विकसित राज्य बनाने के लिए लोगों से समर्थन देने का अनुरोध कर रहे हैं. कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए सीएम सोनोवाल ने कहा कि कांग्रेस के शासनकाल के दौरान भ्रष्टाचार की वजह से लोगों को काफी कुछ सहना पड़ा और वो अवसरों से वंचित रहे। इस सबको समझते हुए हमने भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ कड़े कदम उठाए जिसके परिणामस्वरूप हम एक पारदर्शी और जवाबदेह सरकार ला पाए हैं. 

वहीं, इस बीच मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने गुवाहाटी में पार्टी का घोषणा पत्र जारी कर दिया. घोषणा पत्र को जारी करते हए उन्होंने कहा कि अगले 5 ससालों में हमारा उद्देश्य जाति माटी और बेटी को सशक्त बनाना है. अपने घोषणा पत्र में बीजेपी ने इन 10 संकल्पों का जिक्र किया है. इसमें ब्रह्मपुत्र में बाढ़ से लेकर संशोधित एनआरसी तक का जिक्र है. बीजेपी ने असम में हर साल लाखों सरकारी और प्राइवेट नौकरियां देने का भी वादा किया है. 

असम सरकार में एक शकुनी मामा जैसे और एक धृतराष्‍ट्र जैसे, दोनों ने लोगों से छल किया: प्रियंका गांधी वाड्रा

घोषणापत्र में यह रेखांकित किया गया है कि अगर भाजपा सत्ता आई तो हर बच्चे को मुफ्त शिक्षा मुहैया कराई जाएगी, बाढ़ को नियंत्रित करने की व्यवस्था की जाएगी और यह सुनिश्चित किया जाएगा कि आवश्यक वस्तुओं के लिए राज्य ‘‘आत्मनिर्भर'' बन पाए. इसमें यह भी वादा किया गया कि ‘ओरुंडोई' योजना के तहत महिलाओं को दी जाने वाली राशि 830 रुपये से बढ़ाकर तीन हजार रुपये कर दी जाएगी और पात्र निवासियों को ‘भूमि अधिकार' भी दिए जाएंगे. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने यहां पार्टी का घोषणापत्र जारी करने के बाद कहा कि सही समय पर राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (एनआरसी) को असम में जारी किया जाएगा.

बीजेपी के संकल्प पत्र के प्रमुख वादे
1. बाढ़ मुक्त असम बनाने के लिए मिशन ब्रह्मपुत्र
2. ग्रामीण महिलाओं को हर तीन हजार रुपये की मदद, 30 लाख परिवार होंगे लाभांवित
3. संसोधित NRC
4. नामगढ़ के लिए 1.50 लाख की वित्तीय सहायता
5. आठवीं कक्षा से बड़े विद्यार्थियों को साइकिल दी जाएंगी.
6. परिसीमन में तेजी
8 . आत्मनिर्भर असम
9. सबसे ज्यादा नौकरियों का सृजन करने वाला राज्य बनेगा असम
10. समावेशी विकास 

Video : असम में बीजेपी के लिए हेमंत फैक्टर अहम क्यों है?


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com