'आर्यन के अपहरण का था प्लान, एक सेल्फी ने किया नाकाम' : नवाब मलिक

महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने मोहित कंबोज को मामले का मास्टरमाइंड बताया.

मुंबई:

महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने रविवार को कहा कि अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान का फिरौती के लिए अपहरण किया गया था, लेकिन एक 'सेल्फी' की वजह से इसका खुलासा हो गया. मलिक ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के मुंबई क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े पर अपहरण की साजिश का हिस्सा होने का भी आरोप लगाया. साथ ही कहा कि इस साजिश को भाजपा नेता मोहित कंबोज ने रचा था. उन्होंने यह भी कहा कि क्रूज पर आर्यन खान जैसे लोगों को लुभाने और ड्रग्स के मामले में फंसाने की साजिश थी.

आर्यन खान को पिछले महीने क्रूज शिप पर एक पार्टी के दौरान गिरफ्तार किया गया था.  बाद में बॉम्बे हाईकोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी थी.

'आर्यन खान केस 1100 करोड़ का घोटालेबाज मोहित कम्बोज और वानखेड़े का खेल' : नवाब मलिक

नवाब मलिक ने प्रेस कॉन्फ्रेस करके कहा, 'कोर्ट में कहा गया कि आर्यन खान ने टिकट नहीं खरीदा था, लेकिन क्रूज पर गया था. वह प्रतीक गाबा और आमिर फर्नीचरवाला की वजह से वहां गया था. मैं सीधे तौर पर कहना चाहता हूं कि यह अपहरण और फिरौती का मामला है.'

साथ ही मलिक ने कहा कि भाजपा नेता मोहित कंबोज के एक रिश्तेदार ने यह जाल बिछाया था. आर्यन खान के साथ केपी गोसावी की सेल्फी का जिक्र करते हुए मलिक ने कहा, 'आर्यन खान को वहां ले जाया गया. और अपहरण और 25 करोड़ रुपये की फिरौती का खेल शुरू हुआ. 18 करोड़ रुपये में सौदा हुआ. 50 लाख रुपये दिए गए. लेकिन एक सेल्फी ने खेल को बर्बाद कर दिया और यही सच्चाई है.'


आर्यन खान ड्रग्स केस में गहराती जंग, अब वानखेड़े के पिता ने नवाब मलिक पर ठोका मानहानि का केस

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मंत्री ने साथ ही मोहित कंबोज को मामले का मास्टरमाइंड बताया और आरोप लगाया कि वसूली गैंग में एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े के पार्टनर हैं.