अमरिंदर सिंह की नई राजनीतिक पार्टी का नाम होगा पंजाब लोक कांग्रेस

इससे पहले, आज उन्‍होंन औपचारिक रूप से कांग्रेस से इस्‍तीफा दे दिया. उन्‍होंने अपना इस्‍तीफा पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी को भेज दिया है.

अमरिंदर सिंह की नई राजनीतिक पार्टी का नाम होगा पंजाब लोक कांग्रेस

अमरिंदर सिंह ने अपनी पार्टी का 'पंजाब लोक कांग्रेस' रखा है

पंजाब के पूर्व मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने राज्‍य में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नई पार्टी बनाने का ऐलान किया था. पार्टी का नाम उन्‍होंने 'पंजाब लोक कांग्रेस (Punjab Lok Congress)' रखा है.इससे पहले, आज उन्‍होंने औपचारिक रूप से कांग्रेस से इस्‍तीफा दे दिया. उन्‍होंने अपना इस्‍तीफा पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी को भेज दिया है. सोनिया गांधी को भेजे इस्‍तीफे में कैप्‍टन ने कांग्रेस सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा समेत पार्टी पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं. अपने लेटर में उन्‍होंने पंजाब केकांग्रेस नेता और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू पर गंभीर आरोप लगाए थे. सिद्धू को अस्थिर शख्‍स और पाकिस्‍तापन के प्रति सॉफ्ट करने वाला बताते हुए कैप्‍टन ने लिखा कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा ने उन्‍हें (सिद्धू को) संरक्षण दिया. और कहा कि सोनिया गांधी ने "इस सब से आंखें मूंद लीं." 

'महिला मित्र' के बचाव में उतरे अमरिंदर, अरूसा के सोनिया सहित कई शख्सियतों के साथ फोटो पोस्‍ट किए..

हाल के राजनीतिक घटनाक्रम से बेहद खफा कैप्‍टन ने पिछले माह ही नई पार्टी बनाने के इरादे स्‍पष्‍ट कर दिए थे. उन्‍होंने 27अक्‍टूबर को कहा था कि वे नई पार्टी बनाएंगे. पार्टी के नाम और चुनाव चिन्ह को लेकर चुनाव आयोग से चर्चा चल रही है. उन्होंने साढ़े नौ साल के कार्यकाल में किए गए विकास कार्यों का पूरा ब्योरा भी सबसे सामने रखा था.उन्होंने कहा था कि पंजाब सरकार के जो मंत्री कह रहे हैं कि साढ़े चार साल में कोई काम नहीं हुआ, वो उन्हीं की कैबिनेट का हिस्सा थे. 92 फीसदी कार्यक्रम उनके कार्यकाल में पूरे हुए. अमरिंदर ने पंजाब में विकास से जुड़े उनके कार्यकाल के कामों की पूरी फेहरिस्त भी पेश की थी.


गौरतलब है कि पंजाब कांग्रेस में प्रतिद्वंद्वी नवजोत सिंह सिद्धू से कड़वाहट भारी 'जंग' के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सितंबर माह में पंजाब के मुख्यमंत्री पद इस्‍तीफा दे दिया था. पद छोड़ने के बाद गुस्साए कैप्टन ने यह भी कहा था कि सिद्धू के साथ लड़ाई में कांग्रेस नेतृत्व ने तीन बार उन्हें 'बेइज़्ज़त' किया. उन्होंने सोनिया गांधी को खत लिखकर पूर्व क्रिकेटर को अगले साल होने वाले चुनाव में मुख्यमंत्री पद का प्रत्याशी बनाने के खिलाफ आगाह भी किया था.

यूपी में जिन्ना पर सियासत तेज, सीएम योगी ने अखिलेश यादव पर साधा निशाना

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com