'तुरंत ज्वाइन करें ड्यूटी': कोरोना के कहर के बीच AIIMS के मेडिकल स्टाफ की सर्दी की छुट्टियां रद्द

एम्स अस्पताल ने मंगलवार को कहा कि वह 5 जनवरी से 10 जनवरी तक शीतकालीन अवकाश को रद्द कर रहा है. एम्स ने फैकल्टी मेंबर्स से तत्काल प्रभाव से ड्यूटी ज्वाइन करने के लिए भी कहा है. 

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामलों में आई जबरदस्त तेजी को देखते हुए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) दिल्ली ने डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ को तुरंत काम पर वापस लौटने को कहा है. एम्स अस्पताल ने 5 जनवरी से 10 जनवरी तक शीतकालीन अवकाश (Winter Vacation) को रद्द करने की घोषणा की. एम्स ने फैकल्टी मेंबर्स से तत्काल प्रभाव से ड्यूटी पर वापस आने का आग्रह किया है. ओमिक्रॉन (Omicron) और कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते यह फैसला लिया गया है. 

एम्स ने ज्ञापन में कहा, "यह सूचित किया जाता है कि कोविड-19 और ओमिक्रॉन महामारी के मद्देनजर सक्षम प्राधिकारी ने शीतकालीन अवकाश के शीष बचे भाग 5 से 10 जनवरी को रद्द करने का फैसला किया है. सभी फैकल्टी मेंबर्स से तत्काल काम पर लौटने का आग्रह किया जाता है."

सूत्रों ने बताया कि कोविड-19 के कारण पिछले दो से तीन दिनों में 50 से अधिक मरीजों को एम्स ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है.

READ ALSO: दिल्ली में लागू होगा वीकेंड कर्फ़्यू, DDMA की बैठक में लिया गया फैसला : सूत्र

स्वास्थ्य मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने एनडीटीवी से कहा कि ये अच्छे संकेत नहीं हैं और देश को तीसरी लहर को हल्के में नहीं लेना चाहिए क्योंकि ओमिक्रॉन के साथ डेल्टा वेरिएंट भी अभी सर्कुलेशन में है." एक शीर्ष स्वास्थ्य अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर कहा, "हम करीब से नजर रख रहे हैं."

READ ALSO: 15 जनवरी तक रोज़ 20-25 हज़ार कोविड केस आ सकते हैं दिल्ली में : स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्र

एम्स दिल्ली की ओर से स्टाफ को वापस बुलाने का फैसला ऐसे समय आया है जब दिल्ली में कोरोना के मामले में ताजा उछाल को देखते हुए पाबंदियों को कड़ा किया जा रहा है. नाइट कर्फ्यू के बाद अब राजधानी में वीकेंड कर्फ्यू लगाने की तैयारी चल रही है. सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली में वीकेंड कर्फ़्यू लागू होगा. दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (DDMA) की बैठक में यह फैसला लिया गया है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: दिल्‍ली में वीकेंड कर्फ्यू लगाने का फैसला, बढ़ते कोरोना केसों के चलते DDMA की बैठक में निर्णय: सूत्र