15 जनवरी तक रोज़ 20-25 हज़ार कोविड केस आ सकते हैं दिल्ली में : स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्र

कहा गया है कि ब्रिटेन में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच इससे मौत के आंकड़े भी बढ़ने लगे हैं, तो इस लहर या ओमिक्रॉन को लोग हल्के में ना लें.

15 जनवरी तक रोज़ 20-25 हज़ार कोविड केस आ सकते हैं दिल्ली में : स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्र

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

दिल्ली में कोरोना वायरस के मामलों की रफ्तार और बढ़ सकती है. स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, यह आंकड़ा 15 जनवरी तक हर रोज 20-25 हज़ार पहुंच सकता है. बताया गया है कि ऐसी आशंका है कि दिल्ली में 8 जनवरी के आसपास रोज़ाना 8-9 हजार कोरोना के मामले दर्ज हो सकते हैं. साथ ही कहा गया है कि ब्रिटेन में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच इससे मौत के आंकड़े भी बढ़ने लगे हैं, तो इस लहर या ओमिक्रॉन को लोग हल्के में ना लें. देश में अभी डेल्डा और ओमिक्रॉन दोनों वेरिएंट हैं. 

AIIMS से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, यहां हॉस्पिटलाइजेश अब बढ़ने लगा है, जो चिंता पैदा कर रहा है. मामले बढ़ेंगे तो अस्पताल में दाखिल होने वालों की तादाद भी बढ़ेगी. बीते दो से तीन दिनों में कोरोना के 50 से ज़्यादा मरीज़ AIIMS में भर्ती हुए हैं.

कहर कोरोना का : सिर्फ एक हफ्ते में कोविड के औसत दैनिक केसों में 238% की बढ़ोतरी

दिल्ली में 5% से ऊपर संक्रमण दर
बता दें, दिल्ली में कोरोना संक्रमण दर 5 फीसदी से ऊपर पहुंच गई है. सोमवार को संक्रमण के 4,099 नए मामले सामने आए थे, जोकि रविवार के मुकाबले 28 फीसदी अधिक है. स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के एक मरीज की मौत हो गई. संक्रमण दर बढ़कर 6.46 फीसदी रही. 

Omicron: 23 राज्यों में फैला कोरोना का नया वेरिएंट, अब तक कुल 1,892 मामले, महाराष्ट्र में सबसे ज़्यादा

क्या लगेगा रेड अलर्ट?
GRAP के अनुसार अगले अलर्ट को लेकर भी फैसला हो सकता है. 'ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान' के अंतर्गत लगातार दो दिन संक्रमण दर पांच फीसदी से अधिक रहने पर 'रेड अलर्ट' की स्थिति बन जाएगी, जिसके तहत कर्फ्यू लागू होने साथ ही अधिकतर आर्थिक गतिविधियां भी रोक दी जाएंगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


10 दिन में जो मामले सामने आए हैं, उनमें ज्यादा केस ओमिक्रॉन के होने की संभावना: डॉ एनके अरोड़ा