'पंजाब में AAP को रोकने की पूरी कोशिश कर रहे PM मोदी लेकिन...' : अमरिंदर के नई पार्टी संबंधी ऐलान पर राघव चड्ढा

राघव चड्ढा ने कहा, 'पीएम नरेंद्र मोदी हरसंभव  कोशिश कर रहे है कि आम आदमी पार्टी (आप) को पंजाब में रोका जाए.'

'पंजाब में AAP को रोकने की पूरी कोशिश कर रहे PM मोदी लेकिन...' : अमरिंदर के नई पार्टी संबंधी ऐलान पर  राघव चड्ढा

राघव चड्ढा ने कहा, बीजेपी के अलावा कांग्रेस और अकाली दल का रिमोट भी पीएम मोदी के ही पास है

नई दिल्‍ली :

Punjab Assembly polls 2022: पंजाब (Punjab) में विधानसभा चुनाव की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आ रही है, सियासी हलचल तेज हो गई है. पंजाब के पूर्व मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने नई पार्टी बनाने की घोषणा करते हुए चुनावों में उतरने का ऐलान कर दिया है.' कैप्‍टन' ने मंगलवार को यह भी कहा था कि अगर किसान आंदोलन का समाधान उनके हित में हो जाता है तो पंजाब में भाजपा के साथ समझौते को लेकर भी वे विचार करेंगे. कैप्‍टन की नई पार्टी के गठन की घोषणा को लेकर आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता राघव चड्ढा (Raghav chadha)ने 'अजीबोगरीब' बयान दिया है. चड्ढा ने कहा, 'पीएम नरेंद्र मोदी हरसंभव  कोशिश कर रहे है कि आम आदमी पार्टी (आप) को पंजाब में रोका जाए. अभी तक उन्‍होंने अपनी तीन पार्टियों बीजेपी, अकाली  दल और कांग्रेस को मैदान पर उतारा था. 2022 के विधानसभा चुनाव में इन तीनों पार्टियों को 'आप' को रोकने का काम दिया था.'

आम आदमी पार्टी नेता राघव चड्ढा  ने एक वीडियो जारी कर कहा, 'इन तीनों पार्टियों का रिमोट मोदीजी के पास है. जब ये तीनों पार्टियां थक गईं और अपने घुटने टेक दिए और इन्‍हें(पीएम को) लग गया कि ये 'आप' को रोक नहीं पाएंगी तो उन्‍होंने अपने चहेते अमरिंदर सिंह को संदेश दिया कि नई पार्टी बनाओ. चारों  पार्टियों का एक ही लक्ष्‍य है कि किसी भी तरह 'आप' को रोका जाए. इन चारों  का रिमोट मोदीजी के पास है. पंजाब में आम आदमी पार्टी को रोकने के लिए इन चारों पार्टियों को पीएम मोदी ने मैदान में उतारा है.'


उन्‍होंने कहा, ' यह चारों पार्टियां भी मिलकर पंजाब के लोगों की इच्‍छा और खुशहाल पंजाब बनाने का इन लोगों ने जो संकल्प लिया है, उसे खत्‍म नहीं कर पाएंगी. आम आदमी पार्टी को रोकने के लिए 2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी-अकाली दल ने अपने वोट कांग्रेस के पास ट्रांसफर  करा दिए थे. यह बात अकाली दल के वरिष्‍ठ नेता नरेश गुजराल ने खुद कही थी. इस बार भी ऐसी ही कोशिश हो रही है. तीनों पार्टियां जब AAP को नहीं रोक पा रही तो चौथी पार्टी को लाने की कोशिश हो रही है.' गौरतलब है कि पंजाब के विधानसभा चुनाव में इस बार मुख्‍य मुकाबला सत्‍तारूढ़ कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच ही माना जा रहा है. अकाली दल और बीजेपी का वर्षों पुराना गठबंधन टूट चुका है और दोनों पार्टियांअलग-अलग मुकाबले में उतरेंगी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- - ये भी पढ़ें - -
* "अब महाराष्ट्र कांग्रेस में उठापटक, शीर्ष प्रवक्ता ने छोड़ा पद? सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी
* 'कहा था सब साथ ही हैं' : कैप्टन अमरिंदर सिंह पर पंजाब के मंत्री ने साधा निशाना
* "WHO के महानिदेशक ने भारत के कोविड टीकाकरण प्रयासों की सराहना की : स्वास्थ्य मंत्री