मुंबई में भारी बाारिश के कारण इमारत गिरी, 11 लोगों की मौत, 18 घायल

बीजेपी के नेता रामकदम ने कहा कि मलाड मालवणी में झोपड़पट्टी में घर के ढह जाने से 11 लोगों की जान चली गई. यह शिवसेना शासित बीएमसी की लापरवाही के कारण हुआ. यह हादसा नहीं हत्या है.

मुंबई में भारी बाारिश के कारण इमारत गिरी, 11 लोगों की मौत, 18 घायल

अधिकारियों ने कहा कि कई लोगों के अभी भी मलबे में दबे होने की आशंका है.

मुंबई:

मुंबई के मलाड वेस्ट में देर रात भारी बारिश के  कारण एक बड़ा हादसा हो गया, जिसमें 11 लोगों की मौत हो गई जबकि 18 लोग घायल हो गए हैं. मृतकों में 8 बच्चे शामिल हैं.दरअसल, मलाड वेस्ट के कलेक्टर कंपाउंड में एक चार मंजिला इमारत देर रात गिर गई. हादसे के बाद वहां  पहुंची रेसक्यू टीम ने महिलाओं और बच्चों समेत 18 लोगों को बचा लिया, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. हादसे के बाद इसके पास की दो और जर्जर इमारत को अहतियातन गिरा दिया गया है. फिलहाल वहां रेसक्यू ऑपरेशन जारी है.रात 11 बजे के करीब मालाड के मालवणी में एक मंजिला मकान गिर गया था.  हादसा न्यू कलेक्टर कंपाउंड में 72 नम्बर प्लॉट पर हुआ.दमकलकर्मी अब भी मलबा हटाने में जुटे हैं.

पीएम मोदी ने किया मुआवजे का ऐलान

पीएम मोदी ने मुंबई के मलाड में भारी बारिश के कारण इमारत गिरने से हुई मौतों पर दुख जताया है. साथ ही मरने वालों को 2 लाख रुपये और घायलों को 50 हजार मुआवजा देने का ऐलान किया है.

डॉक्टर ने एनडीटीवी को दी जानकारी
राहत और बचाव कार्य में आम लोगों ने मदद की. मलबे से घायलों को निकालकर सुबर्बन कांदीवली अस्पताल पहुंचाया गया. वहां के डॉक्टर ने एनडीटीवी से कहा कि कुल 18 लोग घायल हुए हैं, 11 लोगों की मौत हुई है.



बीजेपी ने लगाया शिवसेना पर आरोप
बीजेपी के नेता रामकदम ने कहा कि मलाड मालवणी में झोपड़पट्टी में घर के ढह जाने से 11 लोगों की जान चली गई. यह शिवसेना शासित बीएमसी की लापरवाही के कारण हुआ. यह हादसा नहीं हत्या है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


भारी बारिश से मीठी नदी का जलस्तर बढ़ा
बता दें कि मुंबई में बुधवार को हुई बारिश से मीठी नदी का जलस्तर बढ़ गया और आस-पास के इलाक़े में बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं. लोगों के आने जाने में तो ख़ासी परेशानी हुई ही, इमारतों के ग्राउंड फ़्लोर में पानी घुसने से लोगों का काफ़ी सामान ख़राब हो गया.