तमिलनाडु बाल सुधार गृह में 35 बच्चे कोरोना पॉजिटिव, सुप्रीम कोर्ट ने राज्य से मांगा जवाब

सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि आदेश के बावजूद कोरोना पॉजिटिव क्यों हुआ? क्यों नहीं सावधानी बरती गई, क्या कार्रवाई की गई / नहीं की गई.

तमिलनाडु बाल सुधार गृह में 35 बच्चे कोरोना पॉजिटिव, सुप्रीम कोर्ट ने राज्य से मांगा जवाब

अब इस केस में सोमवार (15 जून) को सुनवाई होगी. (file pic)

नई दिल्ली:

बाल सुधार गृहों (Juvenile homes) में कोरोना को लेकर सुप्रीम कोर्ट गुरुवार को सख्त अपनाते हुए राज्य नोटिस जारी किया. तमिलनाडु में रायपुरम के एक प्रोटेक्शन होम में 35 बच्चों के कोराना पॉजेटिव होने पर सुप्रीम कोर्ट ने सवाल उठाए. सुप्रीम कोर्ट ने तमिलनाडु सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है. सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि आदेश के बावजूद कोरोना पॉजिटिव क्यों हुआ? क्यों नहीं सावधानी बरती गई, क्या कार्रवाई की गई / नहीं की गई. कोर्ट ने नोटिस जारी कर राज्य के स्वास्थ्य सचिव से मांगा जवाब है. अब इस केस में सोमवार (15 जून) को सुनवाई होगी.


इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने संस्थानों में बच्चों के संबंध में राज्य सरकारों से प्रतिक्रिया मांगी है. कोर्ट ने कहा कि हम एक प्रश्नावली राज्य सरकारों को भेज रहे हैं. हाईकोर्ट की किशोर न्याय समितियां प्रश्नावली का प्रसार करेंगी और डेटा प्राप्त करेंगी. जूविनाइल जस्टिस समिति यह सुनिश्चित करेंगी कि राज्य सरकारें वह जानकारी प्रदान करें जो मांगी गई है. सुप्रीम कोर्ट ने तमिलनाडु में 35 बच्चों के कोरोना पीडित होने की खबर पर संज्ञान लिया है.
 

राज्य 15 दिनों के भीतर मजदूरों को उनके गांव भेजें: सुप्रीम कोर्ट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com