Winter Heath: नहीं सहन होती ठंड और अक्सर महसूस करते है थकान, तो शरीर को गर्म रखने के लिए कमाल हैं ये आयुर्वेदिक उपाय

Winter Health Care Tips: हेल्दी डाइट, नियमित व्यायाम और लाइफस्टाइल के अन्य तरीकों को मिलाकर आप अपने शरीर को गर्म और मन को शांत रख सकते हैं. इस सर्दी में गर्म रहने के लिए उपयोगी आयुर्वेदिक टिप्स के बारे में जानने के लिए यहां पढ़ें

Winter Heath: नहीं सहन होती ठंड और अक्सर महसूस करते है थकान, तो शरीर को गर्म रखने के लिए कमाल हैं ये आयुर्वेदिक उपाय

Winter Heath: आयुर्वेदिक टिप्स के बारे में जानने के लिए यहां पढ़ें

खास बातें

  • आयुर्वेदिक तरीके शारीरिक स्वास्थ्य को हेल्दी बनाए रखते हैं.
  • सर्दियों की शुरुआत आपके शरीर को भारी और ठंडक का एहसास करा सकती है.
  • आयुर्वेदिक टिप्स के बारे में जानने के लिए यहां पढ़ें.

How To Care For Body In Winter: आयुर्वेदिक तरीके मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य दोनों को हेल्दी बनाए रखने में मदद कर सकते हैं. अगर आप पहले से ही बीमार महसूस कर रहे हैं, तो सर्दी के ठंडे दिन आपको अधिक संवेदनशील बना सकते हैं और लक्षणों को और भी खराब कर सकते हैं. कुछ आयुर्वेदिक टिप्स के साथ एक अच्छी लाइफस्टाइल सर्दियों के मौसम को आसान बनाने में मदद कर सकती है. सर्दियों की शुरुआत आपके शरीर को भारी और ठंडक का एहसास करा सकती है. इस प्रकार होने वाले परिवर्तनों का ध्यान रखना महत्वपूर्ण हो जाता है. हेल्दी डाइट, नियमित व्यायाम और लाइफस्टाइल के अन्य तरीकों को मिलाकर आप अपने शरीर को गर्म और मन को शांत रख सकते हैं. इस सर्दी में गर्म रहने के लिए उपयोगी आयुर्वेदिक टिप्स के बारे में जानने के लिए यहां पढ़ें

सर्दियों में गर्म रहने के आयुर्वेदिक नुस्खे | Ayurvedic Tips To Stay Warm In Winters

1. हल्दी वाला दूध

हल्दी सबसे अच्छे गर्म और हेल्दी मसालों में से एक है जिसे घर पर आसानी से प्राप्त किया जा सकता है. सर्दी के दिनों में आपको गर्म रखने में सुनहरा या हल्दी वाला दूध मदद कर सकता है. रात को सोने से पहले आप अतिरिक्त लाभ के लिए एक कप गर्म दूध में एक चम्मच हल्दी पाउडर, इलायची या सोंठ मिलाकर पी सकते हैं. यह आपके शरीर को तरोताजा रखेगा और नींद की गुणवत्ता को भी बढ़ावा देगा.

2. सक्रिय रहें

सक्रिय रहने से आपका एनर्जी लेवल बना रहेगा और सर्दियों में शरीर गर्म रहेगा. सर्दियों के मौसम में सावधानी बरतना और दैनिक व्यायाम करना सबसे अच्छा है. ठंड का मौसम मांसपेशियों में अकड़न पैदा कर सकता है, इसलिए योग और कार्डियो सर्दी की समस्या में भी मदद कर सकते हैं. आप धीमे और स्थिर व्यायाम से शुरुआत कर सकते हैं जो आपके शरीर पर तनाव में नहीं डालेंगे.

3. मालिश

आयुर्वेदिक तेल मालिश खासकर वात दोष के लिए सुखदायक है क्योंकि आपकी त्वचा वात का एक प्रमुख हिस्सा है. आप अपने शरीर पर ओलियाना तेल या शुद्ध देसी घी से धीरे से मालिश कर सकते हैं और उसके बाद गर्म स्नान के लिए जा सकते हैं. यह न केवल आपके शरीर को गर्म रखने में मदद करता है बल्कि पूरे दिन इसे सक्रिय भी रखता है. सर्दी का मौसम आते ही आप आयुर्वेदिक मसाज सेशन के लिए जा सकते हैं.

4. गरम मसाले का प्रयोग करें

लौंग, दालचीनी, काली मिर्च, जायफल, इलायची, अदरक और हल्दी जैसे गर्म आयुर्वेद मसाले शरीर में वात या वायु तत्व को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं. यह सर्दी के मौसम में शरीर को संतुलित करने में भी मदद करता है. ये मसाले वात तत्व को कम करने में मददगार साबित हो सकते हैं और सर्दियों की समस्याओं जैसे जोड़ों के दर्द, गठिया, खांसी और सर्दी से राहत दिला सकते हैं.

5. गर्म पानी पिएं

आयुर्वेद के अनुसार, अग्नि आपके पाचन स्वास्थ्य के लिए सहायक है. हर बार जब आप ठंडा पानी पीते हैं तो आपकी पाचन प्रक्रिया नम और धीमी हो सकती है, खासकर सर्दियों के दौरान. ठंड के महीनों में हर 3-4 घंटे के बाद एक गर्म कप सादा पानी पीने की सलाह दी जाती है. हालांकि, भोजन के बीच में पानी न पिएं और भोजन के लगभग 30-60 मिनट बाद गर्म पानी लेने की कोशिश करें, क्योंकि यह बेहतर पाचन प्रक्रिया में मदद कर सकता है.

Ayurveda Food Combining: इन चीजों को न खाएं साथ, हैं खतरनाक


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.