न्यूट्रिशनिस्ट मुनमुन गनेरीवाल ने बताया खजूर गुड़ के फायदे, जानें क्यों करना चाहिए Palm Jaggery का सेवन

न्यूट्रिशनिस्ट और फिटनेस एक्सपर्ट मुनमुन गनेरीवाल ने पोस्ट में लिखा, पाम गुड़ आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस और पोटेशियम जैसे खनिजों का भंडार है.

न्यूट्रिशनिस्ट मुनमुन गनेरीवाल ने बताया खजूर गुड़ के फायदे, जानें क्यों करना चाहिए Palm Jaggery का सेवन

पाम गुड़ जिसका स्वाद चॉकलेट जैसा होता है और यह बेहद सेहतमंद होता है.

खास बातें

  • न्यूट्रिशनिस्ट मुनमुन गनेरीवाल ने खजूर गुड़ के फायदों के बारे में बताया.
  • पाम गुड़ आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस और पोटेशियम जैसे खनिजों का भंडार है.
  • यह मुख्य रूप से पलमायरा पाम के रस से बनाया जाता है.

गुड़ हमारी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है. आपने अपनी दादी या नानी को गुड़ के फायदों का गुणगान करते तो जरूर सुना होगा या फिर उन्हें गुड़ के लड्डू बनाते और कभी-कभी चाय बनाते समय चीनी की जगह गुड़ का इस्तेमाल करते हुए भी देखा होगा. कई हेल्थ एक्सपर्ट्स ने भी बार-बार मिठाई में चीनी की जगह गुड़ के इस्तेमाल की बात कही है. लेकिन कई लोगों को गुड़ का स्वाद पसंद नहीं आता. अगर आप भी इनमें से एक हैं, तो न्यूट्रिशनिस्ट और फिटनेस एक्सपर्ट मुनमुन गनेरीवाल के पास आपके लिए इसका एक समाधान है. एक इंस्टाग्राम पोस्ट में उन्होंने खजूर के गुड़ यानि के पाम गुड़ से भरा एक बाउल शेयर किया और इसके कमाल के हेल्थ बेनिफिट्स के बारे में भी बताया है. 

 

जानें, खजूर के गुड़ के बेमिसाल खूबियों के बारे में

न्यूट्रिशनिस्ट ने पोस्ट में लिखा, "गुड़ जिसका स्वाद चॉकलेट जैसा होता है और बेहद सेहतमंद होता है. ऐसा लगता है न कि यह सच नहीं हो सकता, है ना? बहुतों को पाम गुड़ नामक इस रत्न के बारे में पता नहीं होगा." 

यह मुख्य रूप से पलमायरा पाम के रस से बनाया जाता है. वह कहती हैं कि खजूर के गुड़ में कई विटामिन और खनिज होते हैं. 

उन्होंने खुलासा किया कि उन्होंने मदुरै में अपनी योग ट्रेनिंग कोर्स के दौरान इसकी खोज की थी. गनेरीवाल ने रिफाइंड शुगर की तुलना पाम गुड़ से की और कहा पाम गुड़ में मैनुफैक्चरिंग प्रोसेज होने के बाद भी मिनरल्स बरकरार रहते हैं. जबकि, चीनी के साथ ऐसा नहीं था.

उन्होंने कहा कि पाम गुड़ आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस और पोटेशियम जैसे खनिजों का भंडार है.

उन्होंने आगे कहा कि तमिल में इसे करूपट्टी के नाम से जाना जाता है. इसका इस्तेमाल तरह-तरह की मिठाइयों में किया जाता है साथ ही करुपट्टी फिल्टर कॉफी में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है. गनेरीवाल खजूर के रस से बने इसी तरह के गुड़ के बारे में बताया कि इसी तरह के गुड़ को बंगाल में भी बहुत पसंद किया जाता है, जहां इसे 'नोलेन गुड़' कहा जाता है और बहुत लोकप्रिय 'सोंदेश' में इसका इस्तेमाल किया जाता है.'

उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर बताया कि, 'आयरन की मौजूदगी के कारण ये गुड़ एनर्जी का एक बड़ा सोर्स है और एनीमिया को दूर करने की क्षमता रखता है. इसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स भी काफी कम होता है. करूपट्टी आमतौर काफी कठोर होता है और तुरंत घुलता नहीं है, क्योंकि ये ज्यादा पॉलिश्ड नहीं होता है, साथ ही इसमें रंग विसंगतियां भी होती हैं. लेकिन ये भी याद रखें कि जो चीज जितनी अच्छी दिखती हैं, उतनी ही वो रिफाइंड होती हैं.'

गुड़ के हेल्थ बेनिफिट्स की बात करें तो यह एसिडिटी, सूजन और गैस को भी कम करता है और हाई ब्लड प्रेशर वालों के लिए भी फायदेमंद होता है. 

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com