विज्ञापन
Story ProgressBack

दीपिका-आलिया-करीना की वेलनेस कोच अंशुका परवानी से जानिए योग की बारीकी, कब, कैसे और कितना करें

अगर आपके मन में भी ये सवाल है कि, वजन घटाने के लिए कौन से योग करें और इस जर्नी में आपको ट्रेनर की जरूरत क्यों है, तो सेलिब्रिटी वेलनेस कोच अंशुका परवानी ने योग से जुड़े आपके सभी सवालों का जवाब दिया है. यहां जानिए...

दीपिका-आलिया-करीना की वेलनेस कोच अंशुका परवानी से जानिए योग की बारीकी, कब, कैसे और कितना करें
दीपिका-आलिया-करीना के कोच ने बताया कि सेलेब्स की तरह कैसे करें योगा.

योग एक सदियों पुरानी प्रथा है जो शरीर, आत्मा और मन के बीच संतुलन और सामंजस्य को बढ़ावा देती है. योग सीखने के समय एक बात दिमाग में आती है, शुरुआत कहां से करें? अगर आप नौसिखिए हैं, तो एक सुरक्षित और प्रभावी सेशन करने के लिए कुछ जरूरी बातें पता होनी चाहिए. आपकी दुविधा को हल करने के लिए हमने सेलिब्रिटी योग कोच अंशुका परवानी से बातचीत की. जो लोग नहीं जानते, उन्हें बता दें कि अंशुका करीना कपूर, दीपिका पादुकोण, रकुल प्रीत सिंह, आलिया भट्ट, अनन्या पांडे और कई अन्य लोगों की ट्रेनर हैं. वेट मैनेजमेंट योग आसन से लेकर आपको ट्रेनर की जरूरत क्यों है, एनडीटीवी की अबीरा धर के साथ एक खास बातचीत में, अंशुका ने योग से संबंधित कुछ जरूरी सवालों के जवाब दिए. नीचे दिए गए वीडियो में उनके जवाब देखें:

यह भी पढ़ें: मोटे पेट को पतला करने के लिए रोजाना सुबह करें ये काम, महीनेभर में दिखने लगेगा असर, 36 से 30 हो जाएगी कमर

 

वेट मैनेजमेंट के लिए 3 योग आसन:

योग से वजन कैसे कम किया जा सकता है, इस बारे में बात करते हुए अंशुका परवानी ने दावा किया कि यह मेनली इस बात पर निर्भर करता है कि आप किस तरह से सांस लेते हैं. अगर आप सही तरीके से सांस लेना शुरू कर देते हैं, तो चीजें अपने आप ठीक हो जाएंगी. वेलनेस कोच ने कहा, "आसन से ज़्यादा...आप जिस तरह से सांस ले रहे हैं, यही कुंजी है. मैं बहुत से ऐसे छात्रो को पढ़ा रही हूं, मोटापे से परेशान हैं, जो हिल-डुल नहीं सकते और उन्होंने सही तरह की ब्रीदिंग की शुरुआत की. इसलिए, जब आप सही तरीके से सांस लेते हैं, तो आप अपने इंडोक्राइन सिस्टम को कंट्रोल कर रहे होते हैं, जो बदले में आपके हार्मोन इस बात में बड़ी भूमिका निभाते हैं कि आप कितना वजन बढ़ाते हैं और कितना घटाते हैं."

उन्होंने यह कहा कि कैसे कोई व्यक्ति “योगिक सांस” के जरिए सही तरीके से सांस ले सकता है. यह जानने के लिए कि आप सही तरीके से सांस ले रहे हैं, अपनी हथेलियों को अपने पेट पर रखें. सांस लेते समय पेट को फूलता हुआ महसूस करें और सांस छोड़ते समय इसे अंदर धंसता हुआ महसूस करें.

यह भी पढ़ें: इन 5 लोगों को क्यों करना चाहिए भुनी असली का सेवन, जानें बड़े कारण और फायदे

इसके बाद, अंशुका सुझाव देती हैं कि आप अपनी उंगलियों से “L” बनाएं और इसे अपनी पसलियों के ठीक ऊपर रखें. सांस लेते समय आपको पसलियों के पीछे एक गुब्बारा फूलता हुआ महसूस होगा.

अपनी कॉलरबोन पर दो उंगलियां रखें और सांस लेते समय आपको महसूस होगा कि आप अपने गले में सांस ले रहे हैं. सेलिब्रिटी वेलनेस ट्रेनर ने तीनों एरिया को शामिल करके एक पूरी योगिक सांस लेने की सलाह दी. तीन बार सांस लें जैसे आप पानी पी रहे हों. “अपने पेट में सांस लें, अपनी छाती में सांस लें, अपने गले में सांस लें और अब सांस छोड़ें,” उन्होंने कहा, इसे एक पूरी योगिक ब्रीद कहा जाता है.

स्ट्रेस मैनेज करने के लिए 3 आसन:

अंशुका परवानी ने कहा कि भ्रामरी प्राणायाम, अनुलोम विलोम और दीवार पर पैर ऊपर उठाना स्ट्रेस मैनेजमेंट के लिए सबसे अच्छे आसन हैं. उन्होंने कहा, "तो, मैं फिर से प्राणायाम वाली बात पर वापस आऊंगी. मुझे लगता है कि आपका भ्रामरी प्राणायाम आपके लिए बहुत अच्छा है, अनुलोम विलोम आपके लिए बहुत अच्छा है. लेग राइज ऑन वॉल, जो एक बहुत ही सरल तरीका है. यह वास्तव में पैरासिम्पेथेटिक तंत्रिका तंत्र को टैप करने में मदद करता है, जो आपका आराम और विश्राम है. आपका सिम्पेथेटिक मैकेनिज्म फाइटिंग या पार्शन कंट्रोल रिएक्शन करता है. आपका पैरासिम्पेथेटिक आराम और विश्राम है, जो वास्तव में स्ट्रेस वैल्यू को एड करने में मदद करता है, इसके साथ ही बेहतर नींद और सभी अच्छी चीजें करता है."

यह भी पढ़ें: भारत के लोगों में क्यों होता है सिर और गर्दन का कैंसर सबसे ज्यादा? 2040 तक 2.1 मिलियन नए मामलों का अनुमान

अंशुका परवानी ने दिए योग के बारे में सबसे ज्यादा पूछे जाने वाले सवालों के जवाब:

आपने कितनी बार योग करते हुए खुद को चोटिल किया है?

मैंने खुद को चोटिल नहीं किया है. हालांकि, मेरे अभ्यास ने मुझे चोटों से उबरने में मदद की है.

मैं खाने के बाद कब योग कर सकता हूं?

बड़े भोजन के तीन घंटे बाद, लेकिन अगर आप थोड़ा स्नैक्स लेते हैं तो शायद दो घंटे. विचार यह है कि इसे खाली पेट करें, लेकिन अगर आप ऐसा नहीं कर सकते, तो यह अभ्यास न करने का कोई बहाना नहीं है. बेशक, आप नहीं चाहेंगे कि जब आप अभ्यास कर रहे हों तो आपका पाचन तंत्र काम कर रहा हो.

क्या मुझे योग का अभ्यास करने के लिए फ्लेक्सिबल होना चाहिए?

बिल्कुल नहीं. यह एक मिथ है जिसे मैं तोड़ना पसंद करती हूं. अगर आपके पास शरीर, मन और आत्मा है, आप सांस ले रहे हैं तो आप अभ्यास कर सकते हैं, बस आपको यही चाहिए.

क्या मैं चोट लगने, फिजिकल डिसेबिलिटी या गर्भवती होने पर योग कर सकती हूं?

हां, मैंने मोटरबाइक दुर्घटना के बाद अपना अभ्यास शुरू किया था और योग का अभ्यास करने से मैं अपने पैरों पर वापस आ गई.

बेस्ट रिजल्ट के लिए कितनी बार योग करना चाहिए?

तो, अगर आप हर दिन योग आसनों के बारे में बात कर रहे हैं, तो कम से कम हफ्ते में तीन बार, लेकिन अगर आप योग को लाइफस्टाइल के रूप में बात कर रहे हैं, तो आप इसे हर समय कर रहे हैं. बस अपने और पर्यावरण के लिए हर समय सही विकल्प बनाना, आप क्या खा रहे हैं, आप कैसे सोच रहे हैं, यह सब योग लाइफस्टाइल है.

10 Yoga Poses You Should Do Every Day: योगाभ्यास कैसे शुरू करें? 10 आसान योगासन

(अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
झमाझम बरसात! कैसे दें बीमारियों को मात... जानें मानसून में होने वाली बीमारियां और उससे बचने के उपाय
दीपिका-आलिया-करीना की वेलनेस कोच अंशुका परवानी से जानिए योग की बारीकी, कब, कैसे और कितना करें
पेट दर्द और फूला हुआ पेट अक्सर करता है परेशान, तो जानिए पेट की गैस निकालने के लिए क्या करें
Next Article
पेट दर्द और फूला हुआ पेट अक्सर करता है परेशान, तो जानिए पेट की गैस निकालने के लिए क्या करें
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;