शाम होते ही होती है स्नैक्स की क्रेविंग? डाइट गुरु से जानें इवनिंग मील के लिए क्या है बेस्ट ऑप्शन

हम सभी को इवनिंग में वर्कआउट के बाद कुछ हेल्दी स्नैक्स खाने चाहिए. हम में से ज्यादातर लोग शाम की क्रेविंग को शांत करने के लिए चाय के साथ पकौड़े, समोसे या कुछ चटपटा खाना पसंद करते हैं और इसी वजह से हमारी हेल्थ कॉम्प्रोमाइज हो जाती है.

शाम होते ही होती है स्नैक्स की क्रेविंग? डाइट गुरु से जानें इवनिंग मील के लिए क्या है बेस्ट ऑप्शन

हम सभी को इवनिंग में वर्कआउट के बाद कुछ हेल्दी स्नैक्स खाने चाहिए

मशहूर लाइफस्टाइल कोच और डाइट गुरु ल्यूक कौटिन्हो ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम अकाउंट पर अपनी एक तस्वीर पोस्ट की है जिसमें वें इवनिंग स्नैक्स का मजा लेते नजर आ रहे हैं. खास बात यह है कि इवनिंग स्नैक्स में ल्यूक कोई चटपटा फास्ट फूड नहीं खा रहे जैसा कि ज्यादातर लोग करते हैं. वे अपने इवनिंग स्नैक्स में सेब और पिस्ता खाते नजर आ रहे हैं. इस पोस्ट का मेसेज साफ है कि हम सभी को इवनिंग में वर्कआउट के बाद कुछ हेल्दी स्नैक्स खाने चाहिए. हम में से ज्यादातर लोग शाम की क्रेविंग को शांत करने के लिए चाय के साथ पकौड़े, समोसे या कुछ चटपटा खाना पसंद करते हैं और इसी वजह से हमारी हेल्थ कॉम्प्रोमाइज हो जाती है.


जल्दी डिनर की आदत डालें

ल्यूक के इस पोस्ट में एक और महत्वपूर्ण बात बताई गई है वह हैं समय पर डिनर करना. पोस्ट में ल्यूक इवनिंग स्नैक्स लेते नजर आ रहे हैं और साथ ही वे बता रहे हैं कि एक घंटे में वे डिनर करेंगे. यानी ज्यादातर आम लोगों की तुलना में बहुत जल्द. जल्दी डिनर करना आपके लिए बेहद फायदेमंद होता है.

सोने से 3-4 घंटे पहले करें डिनर


ल्यूक की तरह जल्दी डिनर करने की आदत आपकी लाइफ में कई बड़े बदलाव ला सकती है. इससे आपके हार्ट की हेल्थ अच्छी रहेगी साथ अच्छी नींद और डाइजेशन आपकी हेल्थ को बेहतर करता है. कई डाइट एक्सपर्ट्स बताते हैं कि अगर आप अपने सभी मील्स जैसे ब्रैकफास्ट, लंच और डिनर सुबह 6 बजे से शाम 7 बजे के बीच रखते हैं तो इससे आपका कैलोरी इनटेक काफी कम रहता है जिससे आप आसानी से वेटलॉस भी कर सकते हैं. देर से खाना खाने से आपके मेटाबॉलिज्म पर बुरा असर पड़ता है और आप लॉन्ग रन में ऐसा करते हैं तो सेहत पर भी काफी बुरा असर पड़ सकता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.