विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jan 10, 2023

Sakat Chauth 2023: आज है सकट चौथ, जानें पूजा विधि, मुहूर्त, महत्व, भोग और चंद्रोदय का समय

Sakat Chauth 2023: आज देशभर में सकट चौथ का पर्व मनाया जा रहा है. हिंदू धर्म इसे महत्वपूर्ण त्योहार में से एक माना जाता है. आपको बता दें कि इसे तिलकुट चौथ, तिलकुट चतुर्थी, संकटा चौथ आदि नामों से जाना जाता है.

Read Time: 20 mins
Sakat Chauth 2023: आज है सकट चौथ, जानें पूजा विधि, मुहूर्त, महत्व, भोग और चंद्रोदय का समय
Sakat Chauth: सकट चौथ का पर्व माघ महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को पड़ती है.

Happy Sakat Chauth 2023: आज देशभर में सकट चौथ का पर्व मनाया जा रहा है. हिंदू धर्म इसे महत्वपूर्ण त्योहार में से एक माना जाता है. आपको बता दें कि इसे तिलकुट चौथ, (Tilkut Chauth 2023) तिलकुट चतुर्थी, संकटा चौथ आदि नामों से जाना जाता है. पंचांग के अनुसार सकट चौथ का पर्व माघ महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को पड़ती है. इस साल तिलकुट चौथ आज मंगलवार 10 जनवरी को है. इस दिन भगवान श्रीगणेश की पूजा और व्रत का विधान है. इस व्रत में चंद्रमा पूजन का भी महत्व होता है. रात्रि में चंद्रोदय के बाद चंद्रमा को अर्घ्य देकर व्रत खोलने की परंपरा है, तभी सकट चौथ का व्रत संपन्न माना जाता है.

Advertisement

सकट चौथ का महत्व- Sakat Chauth 2023 Importance:

पौराणिक कथा के अनुसार, माघ कृष्ण पक्ष की चतुर्थी के दिन ही भगवान गणेश ने माता पार्वती और भगवान शिव की परिक्रमा की थी. इसलिए इस व्रत को संतान के लिए फलदायी माना गया है. इस व्रत को करने से संतान को दीर्घायु की प्राप्ति होती है और संतान तनाव, रोग और नकारात्मकता से दूर रहते हैं. 

South Ginger Chutney: स्वाद और सेहत से भरपूर है साउथ स्टाइल अदरक की चटनी, यहां देखें रेसिपी

tt59bnso

सकट चौथ पूजा मुहूर्त -Sakat Chauth 2023 Puja Muhurat:

  • चतुर्थी तिथि आरंभ: मंगलवार 10 जनवरी 2023, दोपहर 12:09 से
  • चतुर्थी तिथि समाप्त: बुधवार 11 जनवरी 2023, दोपहर 02:31 तक
  • चंद्रोदय समय - 10 जनवरी, रात्रि 8:50 मिनट
  • शाम में पूजा के लिए मुहूर्त – 10 जनवरी, संध्या 05:49 - 06:16 तक

सकट चौथ पूजा विधि- Sakat Chauth 2023 Puja Vidhi:

Weight Loss: मेटाबॉलिज्म बढ़ाने और Fat Burn करने के लिए इन 5 ड्रिंक्स का करें सेवन

इस दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान करें और इसके बाद साफ कपड़े पहन लें. व्रताधारी को इस दिन लाल या पीले रंग के कपड़े पहनना शुभ माना जाता है. 

Advertisement

पूजा के लिए अपना मुख पूर्व या उत्तर दिशा की ओर रखें और साफ आसन बिछाकर बैठ जाएं. 

पूजा के लिए एक चौकी तैयार कर लें और पीले रंग का कपड़ा बिछाकर इसमें भगवान गणेश की मूर्ति या तस्वीर को स्थापित करें.

Advertisement

भगवान का हल्दी और कुमकुम से तिलक करें. फूल, माला, मौली, रोली, 21 दुर्वा, अक्षत, पंचामृत, फल और मोदक का भोग लगाएं.

Advertisement

अब धूप-दीप जलाएं और गणेशजी की आरती करें. रात्रि में चंद्रोदय के बाद चंद्रमा को दूध और जल से अर्घ्य दें और पूजा करें. 

Advertisement

इसके बाद व्रत का पारण करें.

Easy Tips to Clean Utensils: बर्तनों की चिकनाई साफ करने के लिए आजमाएं ये टिप्स

सकट चौथ स्पेशल रेसिपी- Sakat Chauth Special Recipe:

भगवान गणेश को प्रथम पूज्य माना जाता है. आप गजानन को भोग में कई तरह की चीजें चढ़ा सकते हैं. लेकिन भगवान गणेश को जो चीज सबसे ज्यादा प्रिय है वो है मोदक और लड्डू. मोदक को चावल के आटे, खोया और ड्राई फ्रूट्स से तैयार किया जाता है. सकट चौथ पर आप मोदक बना कर बप्पा को अर्पित कर सकते हैं. मोदक एक आसान और टेस्टी रेसिपी है. पूरी रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.  

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
हीटवेव और लू आपको छू भी नहीं पाएगी अगर आप रोजाना पिएंगे ये स्पेशल राजस्थानी रबड़ी, आइए जानते हैं इसे बनाने की रेसिपी
Sakat Chauth 2023: आज है सकट चौथ, जानें पूजा विधि, मुहूर्त, महत्व, भोग और चंद्रोदय का समय
गर्मियों में बालों को डैमेज होने और झड़ने से बचाने के लिए इन आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों का ऐसे करें इस्तेमाल
Next Article
गर्मियों में बालों को डैमेज होने और झड़ने से बचाने के लिए इन आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों का ऐसे करें इस्तेमाल
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;