Bakrid 2021: जानें क्या है बकरीद की कहानी, ये चार रेसिपी बनाएंगी आपकी ईद को और भी खास

Bakrid 2021: बकरीद को कुर्बानी का त्योहार कहा जाता है. इस साल 19 जुलाई को बकरीद मनाई जाएगी. ईद के मौके पर घर आए मेहमानों को मटन की अलग अलग डिशेज बनाकर सर्व की जाती हैं.

Bakrid 2021: जानें क्या है बकरीद की कहानी, ये चार रेसिपी बनाएंगी आपकी ईद को और भी खास

इस त्यौहार पर अल्लाह के बंदे उसके दरबार में अपने किसी अजीज की कुर्बानी देते हैं.

Eid-ul-Adha 2021 Date:   बकरीद को कुर्बानी का त्योहार कहा जाता है. इस साल 19 जुलाई को बकरीद मनाई जाएगी. इम्तिहान, इबादत और कुर्बानी की अजब दास्तान है बकरीद. इस्लाम में ये त्यौहार इसलिए खास है क्योंकि इस त्यौहार पर अल्लाह के बंदे उसके दरबार में अपने किसी अजीज की कुर्बानी देते हैं. ईद-उल-जुहा के नाम से मनाई जाने वाली बकरीद पर कुर्बानी की यही बड़ी वजह है.

क्यों दी जाती है कुर्बानीः

इस्लाम धर्म के अनुसार हजरत मोहम्मद साहब. जिनका इम्तिहान के लेने के लिए अल्लाह ने उन्हें अपने किसी अजीज की कुर्बानी का हुक्म सुनाया. यूं तो ये एक ख्वाब था पर हुक्म अल्लाह का था तो हजरत मोहम्मद ने भी उसे नजरअंदाज करना मुनासिब नहीं समझा. अगले ही दिन हजरत मोहम्मद अपनी सबसे अजीज चीज अपने बेटे की कुर्बानी देने के लिए तैयार हो गए. कहते हैं अल्लाह उनकी इस नीयत से इतने खुश हुए कि उन्होंने बेटे की जगह दुम्बा (भेड़-बकरी की प्रजाति का प्राणी) को रख दिया. बस तब से ही कुर्बानी का दस्तूर है.

dfslpl0o

 बकरीद को कुर्बानी का त्योहार कहा जाता है.  

बकरीद पर बनाएं ये खास रेसिपीः

ईद के मौके पर कुर्बानी के बाद गोश्त बांटने की भी परंपरा है. घर आए मेहमानों को मटन की अलग अलग डिशेज बनाकर परोसने का दस्तूर भी पुराना है. इस खास दिन अगर आप भी चाहते हैं कुछ लाजवाब डिशेज पकाना. तो यहां मौजूद हैं आपके लिए कुछ यूनीक आइडियाज.

1. खड़े मसाले का गोश्तः

आमतौर पर नॉनवेज बनाने से पहले प्याज, अदरक और लहसुन समेत सभी मसालों को पीसा जाता है. पर खड़े मसाले के गोश्त में सारे मसाले बिना पिसे ही इस्तेमाल होते हैं. सबसे पहले तेल में बड़ी इलायची, तेजपत्ता, काली मिर्च, लोंग, इलायची, दालचीनी और शाही जीरा डालें. इसके बाद लहसुन की कलियां, थोड़ी बारीक कटी अदरक और छोटे छोटे प्याज के टुकड़े डालें. जब ये मसाला पूरी तरह पक जाए तब इसमें सूखे मसाले मिलाएं. जिसमें पिसी लाल मिर्च, हल्दी, धनिया पाउडर, पिसा गर्म मसाला और नमक शामिल है. मसाले मिलाने के बाद थोड़ी देर तक उसे चलाते रहें. इसके बाद इस मसाले में मटन के पीसेज डाल दें. धीमी आंच में मटन को पकने दें. बीच बीच में इसे चलाते रहें. मटन पकने के साथ साथ मसाला भी खुद ब खुद महीन होता जाएगा और ग्रेवी गाढ़ी होती जाएगी. ये आपके त्योहार के लिए परफेक्ट डिश हो सकती है. 

2. कीमा कलेजीः

मटन पकाने का ये भी लाजवाब तरीका है. बस मटन को इतना महीन कटवाना होता है कि वो कीमे की शक्ल ले ले. इसके बाद अदरक, लहसुन और प्याज की ग्रेवी तैयार करें. ग्रेवी तैयार होने के बाद इसमें सभी सूखे मसाले मिलाएं. अब इसमें कीमा और कलेजी डाल दें. और पकने दें. इसे आप बकरीद के मौके पर बना सकते हैं.

3. कोकोनट मटन करीः

ये डिश बनाने का तरीका ठीक वही है जैसे आम मटन करी बनती है. यानि पहले तेल में खड़े गर्म मसाले डालें. फिर अदरक, लहसुन और प्याज का पेस्ट बनाकर तल लें. अब इस पेस्ट में नारियल का पानी डालें और मसाला पकने दें. ध्यान रखें कि सीधे नारियल को पीस कर मसाले में नहीं मिलना है. ये करी का जायका बढ़ाने की जगह बिगाड़ भी सकता है. अगर आपके पास कम पानी वाले नारियल हैं और नारियल की गिरी को पीसना मजबूरी है तो उसे पीसकर छान लें. छने हुए पानी को ही तरी में मिक्स करें. इस तरी में मटन के पीसेस डालें और उसे पकने दें.कुछ ही देर में डिश बनकर तैयार है.

4. मेथी मटन करीः

ये डिश बनाने के लिए मटन करी बनाने की पूरी प्रोसेस को दोहराएं. सारे मसाले पक जाएं तो उसमें मटन डाल दें. मटन जब नर्म होने लगे तो करी में ताजी कटी मेथी की पत्तियां मिला दें. अब इसे तब तक पकने दें जब तक मटन खाने लायक न हो जाए. इस डिश में मटन का जायका भी है और मेथी की ताजगी भी. ये डिश स्वाद और सेहत का कॉम्बिनेशन हो सकती है.

रोजाना बस 5 मिनट करें ये एक्सरसाइज, होंगे गजब के फायदे


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.