Durga Temples: ये हैं मां दुर्गा के प्रसिद्ध 5 मंदिर, नवरात्रि में दर्शन करने से मिलती है भगवती की विशेष कृपा

Top 5 Durga Temple: मां दुर्गा के ये 5 मंदिर प्रसिद्ध हैं. मान्यता है कि नवरात्रि में इन मंदिरों के दर्शन मात्र से भगवती की विशेष कृपा प्राप्त होती है.

Durga Temples: ये हैं मां दुर्गा के प्रसिद्ध 5 मंदिर,  नवरात्रि में दर्शन करने से मिलती है भगवती की विशेष कृपा

Top 5 Durga Temple: मां दुर्गा के 5 प्रसिद्ध मंदिर.

खास बातें

  • ये हैं मां दुर्गा के 5 प्रसिद्ध मंदिर.
  • मां दु्र्गा के इन मंदिरों में दर्शन से मुरादें होती हैं पूरी.
  • नवरात्रि के दौरान माता के दिन मंदिरों में दर्शन करना होत है शुभ.

Top 5 Durga Temples in India: नवरात्रि (Navratri 2022) का पवित्र त्योहार चल रहा है. इस क्रम में आज नवरात्रि के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा की जाएगी. धार्मिक मान्यता के अनुसार, मां दुर्गा की उपासना के लिए नवरात्रि के 9 दिन बेहद खास होते हैं. ऐसे में इस दौरान भक्त देवी दुर्गा के 9 स्वरूप की पूजा-अर्चना करते हैं. इसके अलावा समूचे भारत के कोने-कोने में फैले हुए मां दुर्गा के प्रसिद्ध मंदिर में माता के दर्शन के लिए कतार लगी रहती है. ऐसे में आइए जानते हैं मां दुर्गा के प्रसिद्ध 5 मंदिर (Top 5 Durga Temples) जहां पूरे नवरात्रि भक्तों की भीड़ देखने को मिलती है. मां दुर्गा के ये 5 प्रसिद्ध मंदिर (popular durga temples in india) ऐसे हैं, जहां दर्शन करने से मां दुर्गा की विशेष कृपा प्राप्त होती है. 


दक्षिणेश्वर काली मंदिर, कोलकाता


दक्षिणेश्वर काली मंदिर पश्चिम बंगाल के कोलकाता में स्थित है. यह मंदिर भगवती के प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है. इसके साथ ही यह मंदिर मां भगवती के 51 शक्तिपीठों में से एक है. यहां माता सती से पैर के अंगूठे गिरे थे. इस वजह से यह मंदिर बेहद प्रसिद्ध है. धार्मिक मान्यता है कि यहां पर स्वामी विवेकानंद के गुरु स्वामी रामकृष्ण परमहंस को मां काली ने यहीं पर दर्शन दिए थे. नवरात्रि में यहां भक्तों का तांता लगा रहता है. 

fuerlqf

कामाख्या शक्तिपीठ, गुवाहाटी


असम राज्य के गुवाहाटी में नीलांचल पर्वत पर मां कामाख्या का शक्तिपीठ अवस्थित है. यह शक्तिपीठ असम से 8 किलोमीटर पश्चिम में स्थित है. मां दुर्गा के शक्तिपीठों में कामाख्या शक्तिपीठ सबसे उत्तम माना गया है. मान्याता है कि इस स्थान पर माता सती का योनि भाग गिरा था. 

4khbcggg

ज्वाला देवी मंदिर, हिमाचल प्रदेश


ज्वाला देवी का मंदिर हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में काली धार पहाड़ी पर स्थित है. मां ज्लावा के इस मंदिर को 51 शक्तिपीठों में से एक माना जाता है. इस शक्तिपीठ में मां सती की जीभ गिरी थी. मान्यता है कि नवरात्रि के दौरान यहां माता के दर्शन करने से भक्तों की मुरादें पूरी होती है.

1995ol9


नैना देवी मंदिर, नैनीताल


नैना देवी का मंदिर नैनीताल में स्थित है. कहा जाता है कि साल 1880 में भूस्खलन में यह मंदिर नष्ट हो गया, लेकिन बाद में इसका फिर जिर्णोद्धार किया गया. यहां मां नैना देवी की पूजा की जाती है. पौराणिक मान्यता के अनुसार, यहां माता सती की आंखें गिरी थीं, जिस कारण इस पवित्र स्थाल का नाम नैना देवी पड़ा. नवरात्रि के दौरान इस शक्तिपीठ में भक्त अपनी मनोकामना पूर्ति के लिए पहुंचते हैं. 

89os0uao


वैष्णव देवी, जम्मू-कश्मीर


नवरात्रि के दौरान वैष्णव देवी मंदिर में भक्तों की भीड़ लगी रहती है.  जम्मू से 61 किमी उत्तर की ओर और समुद्र तल से 1584 मीटर ऊंपर भगवती का यह मंदिर अवस्थित है. त्रिकूट पर्वत पर बसे इस मंदिर की महिमा बेहद खास है. यहां मंदिर के पास ही भैरवनाथ का भी डेरा है. भक्त माता का दर्शन करने के बाद इनका दर्शन करने जरूर आते हैं. साल में कभी भी यहां आने का प्लान बनाया जा सकता है. हालांकि सर्दियों में दर्शन थोड़ा कठिन होता है. कहा जाता है  जो कोई सच्चे मन से यहां दर्शन के लिए आता है, उसकी हर इच्छा पूरी होती है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

eagi1bp