पाकिस्‍तान ने शादाणी दरबार की यात्रा के लिए भारतीय हिंदू श्रद्धालुओं को जारी किया वीजा

पाकिस्तान उच्चायोग ने भारतीय हिंदू तीर्थयात्रियों को पाकिस्तान में उनके धार्मिक स्थलों की यात्रा के लिए 136 वीजा जारी किए.

पाकिस्‍तान ने शादाणी दरबार की यात्रा के लिए भारतीय हिंदू श्रद्धालुओं को जारी किया वीजा

शादानी दरबार की स्थापना 1786 में संत शादाराम साहब ने की थी.

नई दिल्ली :

आज, नई दिल्ली में पाकिस्तान उच्चायोग ने भारतीय हिंदू तीर्थयात्रियों को पाकिस्तान में उनके धार्मिक स्थलों की यात्रा के लिए 136 वीजा जारी किए. भारतीय हिंदू तीर्थयात्रियों का समूह 4-15 दिसंबर 2021 तक सिंध प्रांत के सुक्‍कूर (Sukkur) में शिव अवतारी सतगुरु संत शादाराम साहिब की 313 वीं जयंती समारोह में भाग लेने के लिए पाकिस्तान का दौरा करेंगे. तीन सौ साल से अधिक पुराना मंदिर, शादानी दरबार है दुनिया भर के हिंदू भक्तों के लिए एक यह बेहद पवित्र स्थान. शादानी दरबार की स्थापना 1786 में संत शादाराम साहब ने की थी, जिनका जन्म 1708 में लाहौर में हुआ था.

धार्मिक यात्राओं को लेकर 1974 में पाकिस्तान-भारत के बीच तय हुए प्रोटोकॉल (Protocol) के तहत भारत के हिंदू (Hindu) और सिख (Sikh) तीर्थयात्री हर साल धार्मिक उत्सवों व आयोजनों के लिए पाक जाते रहे हैं. पाकिस्तान उच्चायोग द्वारा जारी किए गए वीजा अन्य देशों के इन आयोजनों में भाग लेने वाले हिंदू और सिख तीर्थयात्रियों को दिए गए वीजा के अतिरिक्त हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हिंदू और सिख तीर्थयात्रियों को तीर्थयात्रा वीजा जारी करना पाकिस्तान सरकार के धार्मिक स्थलों की यात्रा को सुविधाजनक बनाने का एक प्रयास है. यह सभी धर्मों के धार्मिक स्थलों के लिए पाकिस्तान के सम्मान और अंतरधार्मिक सद्भाव को बढ़ावा देने की एक अच्छी पहल को दर्शाता है.