कोरोना केसों में उछाल के बाद 'अलर्ट मोड' पर दिल्‍ली सरकार, सभी विभागों के कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द कीं

यह निर्देश दिया गया है कि अगले आदेश तक मेडिकल लीव को छोड़ कोई और छुट्टी नहीं दी जाएगी और न ही अधिकारियों/कर्मचारियों को दिल्ली से बाहर कहीं और जाने की अनुमति होगी.

कोरोना केसों में उछाल के बाद 'अलर्ट मोड' पर दिल्‍ली सरकार, सभी विभागों के कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द कीं

दिल्ली सरकार ने सभी विभागों/दफ्तरों के कर्मचारियों की छुट्टियां (मेडिकल लीव नहीं) रद्द कर दी हैं (प्रतीकात्‍मक फोटो )

नई दिल्‍ली :

देश की राजधानी दिल्ली में तेजी से बढ़ते कोरोना मामलों के मद्देनजर दिल्ली सरकार के सभी विभागों/दफ्तरों के सभी अधिकारी/कर्मचारी/स्टाफ़ की छुट्टियां (मेडिकल लीव नहीं) रद्द कर दी गई हैं.  दिल्ली सरकार ने यह आदेश जारी किया है, इसमें यह भी निर्देश दिया गया है कि अगले आदेश तक मेडिकल लीव को छोड़ कोई और छुट्टी नहीं दी जाएगी और न ही अधिकारियों/कर्मचारियों को दिल्ली से बाहर कहीं और जाने की अनुमति होगी. गौरतलब है कि दिल्ली के कोरोना अस्पतालों में कुल 782 मरीज भर्ती हैं, जिनमें से 69 कोविड सस्पेक्ट (संदिग्‍ध) हैं. पिछले 24 घंटे में ही कुल 708 कोरोना मरीजों को दिल्ली के अस्पतालों में भर्ती किया गया है.इनके अलावा, बीते 24 घंटे में 5 विदेश से आए यात्रियों का कोरोना टेस्ट किया गया, जिनकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई और उन्हें अस्पतालों में भर्ती किया गया

Covaxin लगवाने के बाद न पैरासिटामॉल और न ही दर्द निवारक दवा की जरूरत: Bharat Biotech

इन कुल 713 मरीजों में 610 दिल्ली से हैं और 103 दिल्ली से बाहर के हैं. इनमें से 551 मरीजों को ऑक्सीजन या वेंटिलेटर सपोर्ट की जरूरत नहीं पड़ी है, इन सभी को हल्के कोरोना लक्षण हैं, जबकि 140 कोरोना मरीजों को ऑक्सीजन सपोर्ट के साथ एडमिट किया गया है, इन्हें सामान्य कोरोना लक्षण हैं और 22 मरीज गम्भीर स्थिति में वेंटिलेटर पर एडमिट हैं. इस बीच, दिल्ली में तेजी से बढ़ते कोरोना मामलों के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने अपने 9 सरकारी अस्पतालों में कोरोना के लिए आरक्षित बेड्स की संख्या करीब 1000 बढ़ाने के निर्देश दिए

गोवा से मुंबई पहुंचे कॉर्डेलिया क्रूज के 143 और यात्री कोरोना संक्रमित, 1827 यात्री थे सवार 

कुल 3316 बेड्स से बढ़ाकर 4350 बेड्स हुई संख्या

1. इंदिरा गांधी हॉस्पिटल- 1181 बेड्स से बढ़ाकर 1500 बेड्स
2. लोक नायक हॉस्पिटल+ गुरु नानक आई सेंटर+ रामलीला मैदान- 650 से बढ़ाकर 750 बेड
3. गुरु तेग बहादुर हॉस्पिटल+ रामलीला मैदान- 600 से बढ़ाकर 750 बेड्स
4. बुराड़ी हॉस्पिटल- 300 से बढ़ाकर 400
5. राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल- 150 से बढ़ाकर 300
6. अंबेडकर नगर हॉस्पिटल - 135 बेड्स से बढ़ाकर 200
7. दीन दयाल उपाध्याय हॉस्पिटल- 100 से बढ़ाकर 150 बेड्स
8.  दीपचंद बंधु हॉस्पिटल - 100 से बढ़ाकर 150 बेड्स
9. डॉ बाबा साहेब अंबेडकर हॉस्पिटल- 100 बेड्स से बढ़ाकर 150 बेड्स

इन सभी अस्पतालों के MS/MD/डायरेक्टर को यह भी निर्देश दिया गया है कि जरूरत के हिसाब से मैनपावर, इक्विपमेंट आदि का भी इंतज़ाम करें. 

प्राइवेट अस्पताल कोरोना मरीजों के इलाज के लिए बेड करें आरक्षित : दिल्ली सरकार का आदेश

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com