Delhi News: पुलिस ने अवैध हथियारों के दो सप्‍लायरों को किया अरेस्‍ट, 15 पिस्‍टल और 30 कारतूस बरामद

दो महीने से अधिक समय की जांच के बाद 25 अक्टूबर को एक सूचना के आधार पर एमबी रोड के पास सूरजकुंड टर्निंग पॉइंट पर शाकिर और उसके साथी जुनैद को पकड़ा गया है.

Delhi News: पुलिस ने अवैध हथियारों के दो सप्‍लायरों को किया अरेस्‍ट, 15 पिस्‍टल और 30 कारतूस बरामद

सूचना के आधार पर पुलिस ने सूरजकुंड टर्निंग पॉइंट पर शाकिर और जुनैद को पकड़ा

नई दिल्‍ली :

Delhi: दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (Delhi police Special cell) ने मेवात इलाके के रहने वाले 2 शातिर अवैध हथियारों के सप्लायरों को गिरफ्तार किया है,इनके पास से 15 पिस्टल और 30 कारतूस बरामद हुए हैं. स्पेशल सेल के डीसीपी जसमीत सिंह के मुताबिक, उनकी टीम को हरियाणा के मेवात इलाके से शाकिर द्वारा चलाये जा रहे एक अवैध हथियारों के सिंडिकेट का पता चला. दो महीने से अधिक समय की जांच के बाद 25 अक्टूबर को एक सूचना के आधार पर एमबी रोड के पास सूरजकुंड टर्निंग पॉइंट पर शाकिर और उसके साथी जुनैद को पकड़ा गया.  इन दोनों की तलाशी से 15 पिस्टल और 30 कारतूस बरामद हुए. पूछताछ के दौरान शाकिर ने खुलासा किया है कि उसने बरामद पिस्टल और कारतूस मध्य प्रदेश के खरगौन से खरीदे थे.


शाकिर ने बताया कि वह जुनैद खान सहित अपने अन्य सहयोगियों के साथ पिछले 3 सालों से दिल्ली एनसीआर, हरियाणा, पंजाब और यूपी में अवैध हथियारों और कारतूस की सप्लाई कर रहा है. उसने यह भी खुलासा किया है कि करीब 7 साल पहले उसे हथियारों की तस्करी सिंडिकेट से जुड़ने के लिए पास के गांव के एक शख्स ने लालच दिया था. शाकिर ने उसके लिए 3 साल तक काम किया, लेकिन बाद में उसने हथियारों की तस्करी का अपना नेटवर्क बना लिया. दूसरी ओर, जुनैद खान ने खुलासा किया है कि शाकिर ने उसे अपने सिंडिकेट में शामिल होने और हथियारों की तस्करी गतिविधियों में मदद करने के लिए लालच दिया था. दोनों दिल्ली एनसीआर में गैंगस्टरों और अपराधियों और यूपी, हरियाणा, पंजाब और एमपी में हथियार तस्करों को हथियारों की सप्लाई करते थे. शाकिर ने बताया कि वह मध्‍य प्रदेश से एक पिस्टल 8-10 हज़ार में लेता है और आगे इसे जुनैद खान को 15 हज़ार रुपये में बेच देता था.जुनैद  एक पिस्टल को दिल्ली एनसीआर और आसपास के राज्यों में  25 से 30 हजार रुपये में बेचता है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


 यह भी पता चला है कि गिरफ्तार दोनों शख्‍स पिछले 3 सालों के दौरान दिल्ली एनसीआर में 400 से अधिक हथियारों की सप्लाई कर चुका है। शाकिर को साल 2013 में हरियाणा में एक ऐसे ही मामले में गिरफ्तार किया जा चुका है. गिरफ्तार दोनों आरोपितों से आगे की पूछताछ जारी है। इस सिंडिकेट के बाकी सदस्यों की पहचान करने की कोशिश की जा रही है.