'BJP वालों ने जानबूझकर दीवाली पर चलवाए पटाखे, ताकि...' : प्रदूषण पर बोले दिल्ली के मंत्री गोपाल राय

गोपाल राय ने कहा, 'दीपावली की रात बीजेपी वालों ने जानबूझकर बम पटाखे चलवाए हैं ताकि दिल्ली सरकार को बदनाम किया जा सके.'

नई दिल्‍ली :

दीपावली के बाद दिल्‍ली-एनसीआर में प्रदूषण बढ़ने के मसले पर दिल्ली सरकार के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय (Gopal Rai)ने 'अजीबोगरीब' बात कही है. गोपाल राय ने कहा, 'दीपावली की रात बीजेपी वालों ने जानबूझकर बम पटाखे चलवाए हैं ताकि दिल्ली सरकार को बदनाम किया जा सके. उन्‍होंने कहा कि हम उन दिल्लीवासियों को धन्यवाद देते हैं  जिन्होंने बम पटाखे नहीं चलाएं. कुछ थोड़े से लोगों ने बम पटाखे चलाए, जिसका असर दिल्ली के प्रदूषण पर दिखा है. बीजेपी नेताओं ने जानबूझकर जनता को उकसाया कि त्यौहार है बम जलाने से कुछ नहीं होगा. '

VIDEO : गोवर्धन पूजा पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री खाते रहे कोड़े, लोग लगाते रहे जयकारे

गौरतलब है कि दीवाली की अगली सुबह, देश की राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में प्रदूषण (Delhi-NCR Pollution) से बुरा हाल देखने को मिला है. हालांकि प्रदूषण को नियंत्रण मेंरखने के लिए  दिल्ली सरकार ने पटाखों की बिक्री एवं इस्तेमाल पर रोक लगाई थी लेकिन दीवाली पर कई जगहों पर जमकर आतिशबाजी चलती देखी गई. इस का परिणाम यह हुआ कि दीवाली के अगले दिन यानी शुक्रवार सुबह राजधानी की वायु गुणवत्ता 'खतरनाक' स्थिति में पहुंच गई. आसमान पर धुंध की मोटी चादर छाई नजर आई. 

शरद पवार ने की उद्धव ठाकरे सरकार की प्रशंसा, कहा-इसके फैसलों से कोरोना के मामले कम हुए  


दिल्ली के जनपथ इलाके में तो शुक्रवार सुबह वायु गुणवत्ता (Air Quality Index) का स्तर 655.07 की ऊंचाई पर पहुंच गया. धुंध की मोटी चादर के कारण कई लोगों को आंखों में पानी आने और गले में खारिश महसूस हुई. एनसीआर के क्षेत्र नोएडा और गाजियाबाद में भी लगभग ऐसी ही हालत रही. यहां भी प्रदूषण गंभीर श्रेणी में पहुंच गया. गौरतलब है कि शून्य और 50 के बीच एक्यूआई को ''अच्छा'', 51 और 100 के बीच ''संतोषजनक'', 101 और 200 के बीच ''मध्यम'', 201 और 300 के बीच ''खराब'', 301 और 400 के बीच ''बहुत खराब'', तथा 401 और 500 के बीच को ''गंभीर'' माना जाता है.

दीवाली के बाद दिल्ली पर छाई धुंध की परत, गंभीर श्रेणी तक पहुंची हवा की गुणवत्ता

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com