Covid-19 : दिल्ली में पिछले 24 घंटों में 19,953 नए मामले, 338 मरीजों की मौत

Delhi Covid-19 Cases : दिल्ली की पॉजिटिविटी रेट घटकर 26.73% पर पहुंच गई है, यह लॉकडाउन में दर्ज होने वाली सबसे कम पॉजिटिविटी रेट है.

Covid-19 : दिल्ली में पिछले 24 घंटों में 19,953 नए मामले, 338 मरीजों की मौत

Coronavirus Cases in Delhi : प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोनावायरस (Coronavirus) की रफ्तार थोड़ी धीमी होती दिख रही है. दिल्ली में पिछले 24 घंटों में कोरोनावायरस के 19,953 नए मामले दर्ज किए गए हैं, वहीं इसे दौरान 338 मरीजों ने कोविड की वजह से अपना जान गंवा दी. इसके साथ ही यहां की पॉजिटिविटी रेट घटकर 26.73% पर पहुंच गई है, यह लॉकडाउन में दर्ज होने वाली सबसे कम पॉजिटिविटी रेट है. 22 अप्रैल को पॉजिटिविटी रेट 35.24% था, जो 4 मई को 26.73 के स्तर पर आ गया. यहां रिकवरी रेट- 91.22%, एक्टिव मरीज़- 7.33% और डेथ रेट- 1.44% है. 

मंगलवार को आए 19,953 नए मामलों के बाद दिल्ली में कुल संक्रमितों की संख्या 12,32,942 हो गई. वहीं, पिछले 24 घंटे में 18,788 मरीजों ने कोरोना वायरस को हराया है. इसके साथ ही अब तक कुल 11,24,771 मरीज ठीक हो चुके हैं. 

"आपसे नहीं संभल रहा तो सेना को सौंप दें", कोरोना से बिगड़े हालात पर नीतीश सरकार को HC की फटकार

मौत के आंकड़ों की बात करें तो पिछले 24 घंटे में हुई 338 मौतों के बाद कोरोना से अब तक कुल 17,752 लोगों की दिल्ली में मौत हो चुकी है. वहीं, दिल्ली में अभी कोरोना वायरस के 90,419 सक्रिय मामले हैं. 

बता दें, सोमवार को दिल्ली में कोरोना से रिकॉर्ड मौतें हुई थीं. सोमवार को 24 घंटों में 448 मरीजों ने कोरोना की वजह से जान गंवाई थी. वहीं, 24 घंटे में कोरोना के 18,043 नए मामले दर्ज किए गए थे. 

महाराष्ट्र में कोविड के 51,880 नए केस, 15 जिलों में नए मामलों में दर्ज हो रही गिरावट


गौरतलब है कि राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच केजरीवाल सरकार लॉकडाउन को पहले ही एक हफ्ते के लिए और बढ़ा चुकी है. हालांकि दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन और आईसीयू बेड की कमी का संकट बना हुआ है. दवाओं और चिकित्सा उपकरणों की कमी से भी मरीज कराह रहे हैं. कई कोविड केयर सेंटर खोले गए हैं, लेकिन वहां पर्याप्त इंतजाम न होने से मरीज और उनके तीमारदार परेशान हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बच्चों को भी चपेट में ले रहा कोरोना वायरस, तीसरी लहर में ज्यादा खतरे की आशंका