दिल्ली पुलिस ने दबोचा हाईप्रोफाइल चोर, IAS,IPS,IAF अफसरों के घरों को बनाता था निशाना

पुलिस के मुताबिक पिछले कुछ दिनों से लगातार पॉश इलाकों जैसे रविन्द्र नगर, पंडारा रोड, तिलक मार्ग और मंदिर मार्ग में उन घरों में चोरी हो रही थी.

दिल्ली पुलिस ने दबोचा हाईप्रोफाइल चोर, IAS,IPS,IAF अफसरों के घरों को बनाता था निशाना

आरोपी चोरी की कई वारदातों को दे चुका है अंजाम

नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे हाईप्रोफाइल चोर को गिरफ्तार किया है, जो सिर्फ वीवीआईपी इलाके में चोरी कर रहा था. आरोपी ने एक आईपीएस, एक आईएएस, एक आईएफएस और नेवी अफसर समेत कई वीआईपी के घरों में चोरी की वारदात को अंजाम दिया है. नई दिल्ली के डीसीपी दीपक यादव के मुताबिक पकड़ा गया आरोपी 28 साल का करन उर्फ सोनू है,जो मूलरूप से बिजनौर का रहने वाला है. 

पुलिस के मुताबिक पिछले कुछ दिनों से लगातार पॉश इलाकों जैसे रविन्द्र नगर, पंडारा रोड, तिलक मार्ग और मंदिर मार्ग में उन घरों में चोरी हो रही थी, जिनमें वारदात के वक्त घरवाले नहीं होते थे. एक सीनियर आईपीएस, आईएएस, एक आईएफएस, एक नेवी अफसर के घरों में चोरी की वारदात के बाद पुलिस हरकत में आयी. फिर वारदात वाली जगहों से सीसीटीवी कैमरों की फूटेज देखी गयी, उसके बाद नई दिल्ली जिले के स्पेशल स्टाफ की टीम को सादी वर्दी में तैनात किया गया. 

Delhi-NCR: मोबाइल फोन चोरी गैंग का पर्दाफाश, सरहद पार तक फैला है नेटवर्क

जांच में पता चला कि आरोपी अधिकतर चोरियां शाम 4:30 बजे से 5:45 बजे तक करता है. पुलिस टीम को आरोपी उसी समय पर हुमांयू रोड पर आता हुआ दिखा. इसके बाद पुलिस ने उसे दबोच लिया. तलाशी ली गयी तो उसके पास से चोरी करने का सामान बरामद हुआ. आरोपी की निशानदेही पर पुलिस उसे कोटला मुबारकपुर ले गयी, जहां वो किराये पर कमरा लेकर रहता था. वहां से चोरी का सामान बरामद हुआ, जिसमें महंगी घड़िया, पर्स, गहने और विदेशी करेंसी शामिल है.


मुंबई में एटीएम चोरी का हैदराबाद में अलर्ट, बैंक की सूचना पर मुंबई पुलिस ने पकड़ा एक आरोपी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पुलिस के मुताबिक आरोपी पहले भी चोरी की 9 वारदात में शामिल रहा है. इस तरह उसने कुल 11 वारदात की हैं. आरोपी करन पहले मजदूरी करता था, फिर सरकारी घरों में कपड़े धोने का काम करने लगा. लॉकडाउन के बाद से उसके पास काम नहीं था. उसे वीवीआईपी इलाके में बने सरकारी मकानों की अच्छी जानकारी थी, इसलिए वो इस इलाके में आकर घरों को टारगेट करता था.