Bitcoin ऑप्शंस से मार्केट की गिरावट में मिल रहे पॉजिटिव संकेत

मार्केट कैपिटलाइजेशन के लिहाज से सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन का प्राइस इस महीने की शुरुआत में गिरकर 20,000 डॉलर से नीचे चला गया था

Bitcoin ऑप्शंस से मार्केट की गिरावट में मिल रहे पॉजिटिव संकेत

ओपन इंटरेस्ट की कुल संख्या उच्च स्तर से काफी नीचे चली गई है

खास बातें

  • क्रिप्टो लेंडिंग फर्म Celsius Network ने ट्रांजैक्शंस पर रोक लगाई है
  • पिछले वर्ष मार्केट की तेजी से स्थिति काफी बदल गई है
  • ओपन इंटरेस्ट में गिरावट मार्केट सेंटीमेंट का संकेत है

क्रिप्टो मार्केट में पिछले कुछ महीनों से गिरावट है लेकिन ऑप्शंस ट्रेडर्स को मार्केट में कुछ पॉजिटिव संकेत दिख रहे हैं. मार्केट कैपिटलाइजेशन के लिहाज से सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन का प्राइस इस महीने की शुरुआत में गिरकर 20,000 डॉलर से नीचे चला गया था. हालांकि, इसके बाद से इसमें कुछ रिकवरी हुई है.

EDG के को-फाउंडर Chris Bae ओपन इंटरेस्ट के साथ ही ऑप्शंस ट्रेडिंग की पेशकश करने वाले ग्लोबल एक्सचेंजों को ट्रैक करते हैं. उन्होंने कहा, "लिक्विडिटी में बहुत अधिक कमी का संकेत नहीं मिल रहा. ऑप्शंस मार्केट में बिजनेस सामान्य स्थिति की ओर बढ़ता दिख रहा है." हालांकि, मार्केट को हैकर्स के अटैक बढ़ने, कुछ स्टेबलकॉइन प्रोजेक्ट्स की स्थिति खराब होने और कुछ बड़े क्रिप्टो हेज फंड्स के सिमटने से झटका लगा है. हाल के सप्ताहों में क्रिप्टो लेंडिंग फर्मों की वित्तीय स्थिति कमजोर होने का पता चला है. क्रिप्टो लेंडिंग फर्म Celsius Network ने कस्टमर्स की ट्रांजैक्शंस पर रोक लगा दी है. 

समाचार एजेंसी Bloomberg की रिपोर्ट के अनुसार, क्रिप्टो मार्केट पर अमेरिका के फेडरल रिजर्व और कुछ अन्य देशों के सेंट्रल बैंकों की ओर से इंटरेस्ट बढ़ाने का बड़ा असर पड़ा है. पिछले वर्ष मार्केट की तेजी से स्थिति काफी बदल गई है. ओपन इंटरेस्ट या बकाया कॉन्ट्रैक्ट्स की कुल संख्या उच्च स्तर से काफी नीचे चली गई है. पिछले वर्ष अक्टूबर में ओपन इंटरेस्ट लगभग 15 अरब डॉलर पर था, जो अब घटकर 7 अरब डॉलर से कुछ अधिक पर है. वॉल्यूम भी 60 करोड़ डॉलर से कुछ कम है, जो पिछले वर्ष अक्टूबर में 8 अरब डॉलर से अधिक के उच्च स्तर पर थी. Paradigm में इंस्टीट्यूशनल कवरेज (APAC) के हेड, Patrick ने कहा कि ओपन इंटरेस्ट में गिरावट मार्केट सेंटीमेंट का संकेत है. मार्केट में गिरावट होने पर यह कम हो जाता है.

Celsius Network के ट्रांजैक्शंस पर रोक लगाने के फैसले की रेगुलेटर्स की ओर से जांच की जा रही है. Celsius ने कहा था कि क्रिप्टो मार्केट की खराब स्थिति के कारण वह एकाउंट्स के बीच विड्रॉल और ट्रांसफर पर रोक लगा रही है. अमेरिका में हेडक्वार्टर रखने वाली इस फर्म के ट्रांजैक्शंस पर रोक लगाने के फैसले की टेक्सस स्टेट सिक्योरिटी बोर्ड सहित कुछ रेगुलेटर्स जांच कर रहे हैं. इस बारे में अमेरिका के सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन (SEC) ने भी फर्म से जानकारी मांगी है. 
 


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com