यूपी: 250 रुपए स्कूल फीस समय पर नहीं दी तो 14 साल के दलित छात्र को बेरहमी से पीटा, 10 दिन बाद अस्पताल में तोड़ा दम

14 साल का दलित छात्र एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ता था. अध्यापक अनुपम पाठक ने 08 अगस्त को उसकी इसलिए बेरहमी से पिटाई की क्योंकि उनसे मात्र 250 रुपए की स्कूल की फीस समय से जमा नहीं करवाई.

यूपी: 250 रुपए स्कूल फीस समय पर नहीं दी तो 14 साल के दलित छात्र को बेरहमी से पीटा, 10 दिन बाद अस्पताल में तोड़ा दम

14 साल का दलित छात्र एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ता था.

लखनऊ:

एक प्राइवेट स्कूल में सिर्फ 250 रुपए फीस ना अदा करने पर नाबालिग दलित छात्र की बेरहमी से पिटाई की गई, जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई. ये घटना उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती जिले की है. जानकारी के अनुसार मेडिकल कॉलेज बहराइच में 10 दिनों तक इलाज के बाद छात्र की मौत हो गई. वहीं परिजनों ने अध्यापक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के लिए प्रदर्शन किया, जिसके बाद आरोपी टीचर को गिरफ्तार कर लिया गया.

पुलिस अधीक्षक अरविंद कुमार मौर्य ने कहा कि 'एक स्कूल छात्र की मौत की जानकारी मिली थी. मृतक के चाचा ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है, जिसमें कहा गया कि छात्र को स्कूल में मारा पीटा गया था. इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है और कानूनी रूप से कार्रवाई की जाएगी.'

ये भी पढ़ें- एक्सप्रेस-वे के बीच पड़ रहा था 'सपनों का घर', बचाने के लिए पंजाब के किसान ने लगाई 'जुगाड़ टेक्नोलॉजी'

14 साल का दलित छात्र एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ता था. अध्यापक अनुपम पाठक ने 08 अगस्त को उसकी इसलिए बेरहमी से पिटाई की क्योंकि उनसे मात्र 250 रुपए की स्कूल की फीस समय से जमा नहीं करवाई. हालांकि, अगले ही दिन उसके भाई ने दो महीनों की फीस ऑनलाइन भेज दी थी. लेकिन तब तक देर हो चुकी थी. गंभीर रूप से घायल छात्र की बहराइच मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान 18 अगस्त को मौत हो गई.

मृतक छात्र के भाई राजेश कुमार ने बताया, 'मेरा भाई पढ़ने के लिए स्कूल गया था. वहां अध्यापक ने फीस के लिए उसे मारा. तीन चार दिन फीस लेट हुई थी. उन्होंने मेरे भाई को टॉर्चर किया कि फीस लेकर आओ. हमारे घर पर उस वक्त पैसे नहीं थे. उसने घर आकर मुझे बताया कि पैसे के लिए स्कूल में मुझे मार रहे हैं. मैंने प्रिंसिपल से कहा कि ऑनलाइन पेमेंट कर देंगे और मैंने फीस ऑनलाइन भेज भी दी थी. 250 रुपए फीस थी, जो कि मैंने बाद में दो महीने की फीस चुका दी थी.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: बिलकिस के दोषियों की रिहाई की सिफारिश करने वाले कौन हैं? जानिए