फरीदाबाद : शादी समारोह में वेटर की हत्या की गुत्थी सुलझी, मामले में 2 आरोपी गिरफ्तार

रात करीब साढ़े 11 बजे अग्रवाल धर्मशाला में शादी का प्रोग्राम था. जिसमें मृतक राम सुभग्य प्रसाद प्लेट धोने के काम पर लगाया गया था. लेकिन किसी अज्ञात ने लोहे की पत्ती से छाती, ठोड़ी और गले पर हमला कर के उसकी हत्या कर दी.

फरीदाबाद : शादी समारोह में वेटर की हत्या की गुत्थी सुलझी, मामले में 2 आरोपी गिरफ्तार

क्राइम ब्राच की टीम ने दोनों आरोपियों को 6 घंटे में सेक्टर 85 से गिरफ्तार कर लिया.

फरीदाबाद:

हरियाणा के ओल्ड फरीदाबाद में एक शादी समारोह में वेटर की हत्या के मामले में पुलिस ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस कमिश्नर के आदेश पर क्राइम ब्रांच की टीम ने सेक्टर 85 से आरोपी गौरव और सोनू को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार आरोपी गौरव और सोनू उर्फ पोल्ला शास्त्री कॉलोनी ओल्ड फरीदाबाद का रहने वाला है. बुधवार को रात ओल्ड फरीदाबाद के संजय टैंट हाउस में एक शादी थी.

रात करीब साढ़े 11 बजे अग्रवाल धर्मशाला में शादी का प्रोग्राम था. जिसमें मृतक राम सुभग्य प्रसाद प्लेट धोने के काम पर लगाया गया था. लेकिन किसी अज्ञात ने लोहे की पत्ती से छाती, ठोड़ी और गले पर हमला कर के उसकी हत्या कर दी. मृतक को अग्रवाल धर्मशाला के बाहर आप्टीकल प्लाजा वाली गली में रात 8 बजे तक प्लेट धोते हुए देखा गया था. मृतक वेटर की उम्र करीब 60 साल थी.

राम सुभग्य प्रसाद जिस ठेकेदार के अधीन काम करता था, उसका नाम सिद्धार्थ बताया जा रहा है. घटना की सूचना पुलिस को टैंट हाउस के ठेकेदार सिद्धार्थ ने ही दी थी. जिसके बाद फरीदाबाद पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया था. हालांकि पुलिस कमिश्नर के सख्त निर्देश के बाद क्राइम ब्रांच की टीम ने तत्परता से कार्रवाई करते हुए मात्र 6 घंटे में गुत्थी को सुलझा लिया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मामले में एसीपी (क्राइम ब्रांच) सुरेंद्र श्योरन ने प्रेस कॉन्फ्रेस करते हुए कहा कि, 'उपरोक्त आरोपियों को सीसीटीवी फुटेज पर पहचान करके गुप्त सूत्रों से प्राप्त सूचना के आधार पर आरोपी गौरव और सोनू उर्फ पोल्ला को ओल्ड फरीदाबाद से काबू किया गया है.' पुलिस पूछताछ में पता चला है कि आरोपियों ने टैंट हाउस में खाना खाया और वेटर सुभग्य की चादर को लेकर जाने लगे. इसी बात पर सुभग्य ने आरोपियों को चादर ले जाने का विरोध किया, तो आरोपियों ने लोहे की एक पत्ती से वेटर सुभग्य की छाती, गले पर चोट मार कर हत्या कर दी. पुलिस ने बताया कि आरोपी नशा करने के आदी हैं. इतना ही नहीं, आरोपी नशा करने के बाद धर्मशालाओं की शादी/पार्टियों में घुस कर खाना खाने के भी आदी हैं. आरोपी पहले भी चोरी की वारदातों में जेल जा चुके हैं.