गावस्कर ने मीडिया में लीक खबरों पर ऑस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर का किया समर्थन

सनी ने लिखा कि वर्तमान टीम के खिलाड़ियों, उनके एजेंट या मैनेजरों द्वारा मीडिया में स्टोरी प्लांट की जा रही हैं कि यह लैंगर का जुनून था, जिसने खिलाड़ियों को दबाव में ला दिया. इस बात ने खिलाड़ियों के खेल पर असर डाला. पूर्व ओपनर ने लिखा कि यह पूरी तरह से बकवास बात है क्योंकि जब खिलाड़ी मैदान पर जाते हैं, तो कोच कुछ भी नहीं कर सकता

गावस्कर ने मीडिया में लीक खबरों पर ऑस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर का किया समर्थन

गावस्कर ने बात पते की कही है

नई दिल्ली:

हाल ही में भारत के हाथों सीरीज गंवानने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम के कोच जस्टिन लैंगर (Justion Langer) को भारतीय दिग्गज सुनील गावस्कर का समर्थ मिला है. सीरीज में 2-1 से हार के बाद लैंगर ऑस्ट्रेलियाई मीडिया और अपने देश के पूर्व क्रिकेटरों के निशाने पर आ गए थे. ऐसी खबरें भी छपीं कि ऑस्ट्रेलियाई टीम के सदस्य लैंगर की कोचिंग शैली से खुश नहीं हैं. गावस्कर ने एक अखबार के लिए लिखे कॉलम में लैंगर के  बर्ताव को लेकर लीक हुई रिपोर्ट को एकदम  बकवास करार दिया. साथ ही, सनी ने सीरीज में हार के लिए कोच लैंगर के सिर दोष मढ़ने के कंगारुओं क्रिकेटरों की सोच को बिगड़ैल बच्चे  सरीखा बर्ताव करार दिया. दरअसल पिछले हफ्ते ही ऑस्ट्रेलिया के सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड ने यह खबर छापी थी कि टीम के सीनियर खिलाड़ी ड्रैसिंग रूम के बर्ताव और जस्टिन लैंगर की कोचिंग शैली से खुश नहीं हैं. 

जब PAK पर टूटा था अनिल कुंबले का कहर, 10 विकेट लेकर रच दिया था अनोखा इतिहास, देखें पूरा Video

गावस्कर ने लिखा कि लैंगर को लेकर इस तरह की खबरों का बाहर आना वास्तव में ऑस्ट्रेलिया टीम की खराब बात को प्रदर्शित करता है. यह बात इन खिलाड़ियों को बिगड़ैल बच्चा सरीखा बनाती है, जो भारत के हाथों मिली हार को स्वीकार नहीं कर सके. अपनी खामियों और खराब खेल को स्वीकार करने के बजाय ये खिलाड़ी लैंगर के सिर दोष मढ़ रहे हैं और उनके खिलाफ खराब माहौल बनाने में जुटे है. 

मोहम्मद शमी ने शुरू की ट्रेनिंग, जानिए कब हो सकती है तेज गेंदबाज की भारतीय टीम में वापसी

सनी ने लिखा कि वर्तमान टीम के खिलाड़ियों, उनके एजेंट या मैनेजरों द्वारा मीडिया में स्टोरी प्लांट की जा रही हैं कि यह लैंगर का जुनून था, जिसने खिलाड़ियों को दबाव में ला दिया. इस बात ने खिलाड़ियों के खेल पर असर डाला. पूर्व ओपनर ने लिखा कि यह पूरी तरह से बकवास बात है क्योंकि जब खिलाड़ी मैदान पर जाते हैं, तो कोच कुछ भी नहीं कर सकता और विरोधी टीम द्वारा खड़े गए सवालों का जवाब खिलाड़ियों को ही मैदान पर अपन प्रदर्श से देना होता है. वहीं, सनी ने बॉक्सिंग-डे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के पहले बैटिंग करने के तर्क पर भी सवाल उठाया.

IND vs ENG 1st Test: जो रूट यह कारनामा करने वाले डॉन ब्रेडमैन के बाद इतिहास के सिर्फ दूसरे खिलाडी बने


सनी बोले कि एक बात जिसके लिए लैंगर और मैनेजमेंट पर सवाल उठाया जा सकता है, वह मेलबर्न टेस्ट में टॉस जीतकर पहले  बल्लेबाजी करने का फैसला है.. यह कप्तान या सीनियर खिलाड़ियों का फैसला था, या फिर कोच लैंगर ने कप्तान पेन को ऐसा करने के लिए प्रोत्साहित किया, यह पता नही है. लेकिन इस बात को छोड़कर लैंगर को किसी दूसरी बात के लिए दोष नहीं दिया जा सकता. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने अपने करियर को लेकर बड़ा ऐलान किया था.