KXIP vs DC: गावस्कर ने पृथ्वी शॉ लेकर खड़े किए ये सवाल, पिछली चार पारियों में रहे हैं बुरी तरह नाकाम

KXIP vs DC: ध्यान दिला दें कि पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने 5 अक्टूबर को बेंगलोर के खिलाफ दुबई में 42 रन की पारी खेली थी और इस मैच के बाद से शॉ का स्कोर 19, 4, 0, 0 रहा है. पिछले दो मैचों में वह खाता भी नहीं खोल सके और यह इस युवा (Prithvi Shaw)  बल्लेबाज के साथ-साथ दिल्ली मैनेजमेंट के लिए भी चिंता का विषय हैं. और यहां से पृथ्वी के लिए क्या रास्ता बनता है, यह अगले मुकाले में साफ हो जाएगा. 

KXIP vs DC: गावस्कर ने पृथ्वी शॉ लेकर खड़े किए ये सवाल, पिछली चार पारियों में रहे हैं बुरी तरह नाकाम

KXIP vs DC: पृथ्वी (Prithvi Shaw) को दिग्गजों की सलाह पर ध्यान देना होगा

दुबई:

दिल्ली कैपिटल्स (DC) के ओपनर पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) अब टीम पर बोझ बनते दिखाई दे रहे हैं. उम्मीद थी कि किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के खिलाफ पृथ्वी (Prithvi Shaw) का सूखा खत्म हो जाएगा, लेकिन यह दाएं हत्था बल्लेबाज एक बार फिर से नाकाम हो गया. वास्तव में दिल्ली कैपिटल्स (DC)का मैनेजमेंट जरूर से ज्यादा पृथ्वी (Prithvi Shaw) का समर्थन करता दिख रहा है, लेकिन पृथ्वी हैं कि भरोसे पर बार-बार नाकाम साबित हो रहे हैं. और दिग्गज सुनील गावस्कर कमेंटरी उनकी बैटिंग को लेकर चर्चा दिखाई करते पड़े और तरीके पर को भी बयां कि कि कैसे पृथ्वी (Prithvi Shaw) को खेलना चाहिए, लेकिन ऐसा लगता है कि पृथ्वी 'इस राह' पर चलने को तैयार नहीं हैं, लेकिन अब समय आ गया है, जब इस युवा खिलाड़ी को खेल के शीर्ष धुरंधरों की सलाह को गंभीरता से लेना होगा. 

ध्यान दिला दें कि पृथ्वी शॉ ने 5 अक्टूबर को बेंगलोर के खिलाफ दुबई में 42 रन की पारी खेली थी और इस मैच के बाद से शॉ का स्कोर 19, 4, 0, 0 रहा है. पिछले दो मैचों में वह खाता भी नहीं खोल सके और यह इस युवा  बल्लेबाज के साथ-साथ दिल्ली मैनेजमेंट के लिए भी चिंता का विषय हैं. और यहां से पृथ्वी के लिए क्या रास्ता बनता है, यह अगले मुकाले में साफ हो जाएगा. 

यह भी पढ़ें: शिखर धवन का धमाका, आईपीएल में बनाए बड़े रिकॉर्ड, पहले भारतीय बल्लेबाज बने


बहरहाल, गावस्कर की चर्चा पर लौटते हैं, जो कमेंट्री  के दौरान पृथ्वी की तकनीकी खामियों को लेकर खेलने के तरीके और रवैये पर विस्तार से चर्चा करते दिखायी पड़े. गावस्कर ने आकाश चोपड़ा से चर्चा में कहा कि पृथ्वी की बैकलिफ्ट बाहर से आती है और उनके पैड और बैट के बीच बहुत ज्यादा गैप बनता है. साथ ही, पृथ्वी हर गेंद पर स्ट्रोक लगाते दिखाई पड़ते हैं. ऐसा लगता है कि मानो उनकी शैली में डिफेंसिव शॉट की जगह भी नहीं है. 

यह भी पढ़ें: कैसे CSK अभी भी पहुंच सकता है IPL प्लेऑफ में, जानें पूरा समीकरण

इसके बाद गावस्कर ने पृथ्वी के खेलने के तरीके पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि जब वह पिछली पारियों में नाकाम रहे थे, तो उन्होंने सिंगल पर ध्यान केंद्रित करते हुए धवन को ज्यादा से ज्यादा स्ट्राइक देनी चाहिए थी, लेकिन इससे अलग पृथ्वी शुरुआत से ही स्ट्रोक खेलने के लिए जाते रहे. कई बार चूके, बॉलर ने छकाया और आखिर एक बार फिर से स्ट्रोक खेलने के चक्कर में गेंद को ऊंचाई दे बैठे और लपके गए. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी. ​