पीएम मोदी देश को तानाशाह की तरह चलाना चाहते हैः तारिक अनवर

कांग्रेस के महासचिव अनवर ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और पूरी पार्टी केंद्र के कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के साथ मजबूती से खड़ी

पीएम मोदी देश को तानाशाह की तरह चलाना चाहते हैः तारिक अनवर

कांग्रेस महासचिव तारिक अनवर (फाइल फोटो).

पटना:

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तारिक अनवर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर प्रहार करते हुए रविवार को आरोप लगाया कि वह देश को ‘तानाशाह' की तरह चलाना चाहते हैं. अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव अनवर ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और पूरी पार्टी उन किसानों के साथ मजबूती से खड़ी है जो केंद्र के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि किसान इन कानूनों को वापस लेने के लिए दिल्ली में प्रदर्शन कर रहे हैं.

अनवर ने यहां संवाददाताओं से कहा, “प्रधानमंत्री को वास्तविकता को स्वीकार करना चाहिए. इसी से लोकतंत्र चलता है. एक देश जिद्दी रवैये से नहीं चलता है. इसे संवाद, परामर्श और संचार (हितधारकों के साथ) के माध्यम से चलाया जाता है. लेकिन हमारे प्रधानमंत्री का रवैया एक तानाशाह की तरह है. वह देश को एक तानाशाह की तरह चलाना चाहते हैं.”

उन्होंने आरोप लगाया, "वह (प्रधानमंत्री) सोचते हैं कि जो निर्णय लिया गया है, उसे बदला नहीं जा सकता है, भले ही वह (निर्णय) सही या गलत हो." अनवर ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने तीन प्रमुख निर्णयों  "नोटबंदी, जीएसटी और कृषि कानूनों" को लेने के समय किसी को विश्वास में नहीं लिया, जिसने आम लोगों और राष्ट्र को प्रतिकूल रूप से प्रभावित किया है.

उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने इन निर्णयों को लेने से पहले किसी से भी सलाह नहीं ली. परिणामस्वरूप किसान कृषि कानूनों पर केंद्र सरकार के ताजा फैसले पर आंदोलन कर रहे हैं. उन्होंने दावा किया कि बिहार कांग्रेस भी राज्य में किसानों के आंदोलन में तेजी लाएगी क्योंकि 2006 में एपीएमसी अधिनियम को समाप्त करने के कारण राज्य में किसानों की स्थिति बहुत ही खराब है, जिसने उन्हें अपनी उपज का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) और मंडियों से वंचित कर दिया.

बिहार प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष मदन मोहन झा, बिहार के कार्यकारी अध्यक्ष श्याम सुंदर सिंह धीरज, प्रवक्ता एचके वर्मा और राजेश राठौड़ के साथ संवाददाताओं को संबोधित करते हुए अनवर ने कहा कि किसानों के मुद्दों पर चर्चा करने के लिए पार्टी के किसान प्रकोष्ठ की बैठक बुलाई गई थी ताकि उनके आंदोलन को गति दी जा सके. बिहार कांग्रेस के किसान प्रकोष्ठ ने एक प्रस्ताव पारित कर केंद्र सरकार से तीन कृषि कानूनों को वापस लेने को कहा है.


अनवर ने कहा कि किसान प्रकोष्ठ ने राहुल गांधी को फिर से पार्टी के अध्यक्ष के रूप में स्थापित करने के लिए भी एक प्रस्ताव पारित किया क्योंकि पूरे देश में किसान एवं मजदूरों अपने अधिकार की लड़ाई का नेतृत्व करने के लिए उनकी ओर देख रहे हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस बीच, बिहार कांग्रेस के प्रमुख मदन मोहन झा ने घोषणा की कि कांग्रेस पार्टी आठ दिसंबर को किसान संगठनों द्वारा आहूत देशव्यापी बंद को अपना समर्थन देगी. झा ने पार्टी के किसान प्रकोष्ठ की बैठक को संबोधित करते हुए यह घोषणा की. उन्होंने पार्टी की सभी इकाइयों, राज्य पदाधिकारियों, जिला, प्रखंड, पंचायतों को राष्ट्रव्यापी बंद में भाग लेने के लिए कहा है.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)