विश्व की एकमात्र जगह, जहां किसी को कोरोना हुआ ही नहीं, यहां के लोग हैं सबसे खुशनसीब

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को तबाह कर दिया है. इस वायरस के संक्रमण से सभी देश परेशान हैं.  इस वायरस के कारण कई देश लाशों के ढेर में बदल गए. 2 साल ऐसा लगा कि ज़िंदगी पूरी तरह से रुक सी गई है. हमारी ज़िंदगी में ये वायरस एक कहर बनकर आया है.

विश्व की एकमात्र जगह, जहां किसी को कोरोना हुआ ही नहीं, यहां के लोग हैं सबसे खुशनसीब

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को तबाह कर दिया है. इस वायरस के संक्रमण से सभी देश परेशान हैं.  इस वायरस के कारण कई देश लाशों के ढेर में बदल गए. 2 साल ऐसा लगा कि ज़िंदगी पूरी तरह से रुक सी गई है. हमारी ज़िंदगी में ये वायरस एक कहर बनकर आया है. मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग और सैनिटाइज़र हमारी ज़िंदगी है. इन सबके बीच एक हैरान कर देने वाली ख़बर है. जहां कोरोना ने यूके समेत पूरी दुनिया को अपने चपेट में लिया वहीं यूके के समीप एक ऐसा द्वीप है, जहां कोरोना वायरस कभी आया ही नहीं. ये देश Island With Zero Covid Cases वाला द्वीप बन गया.

nzherald.co.nz की ख़बर के अनुसार, इस द्वीप का नाम संत हेलेना द्वीप है. यहां 2019 से लेकर अभी तक कोरोना का एक भी मामला देखने को नहीं मिला है. क्षेत्रफल की बात करें तो ये द्वीप मात्र 120 स्क्वायर किलोमीटर में फैला है. वहीं जनसंख्या की बात करें तो यहां तकरीबन 45 सौ लोग रहते हैं. 

ये भी देखें- द ताशकंद फाइल्स 2019 की सबसे बड़ी हिट बन गई": राष्ट्रीय पुरस्कार जीतने पर अभिनेत्री पल्लवी जोशी


ना मास्क का टेंशन और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यहां के लोग न तो मास्क लगाते हैं और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हैं. यहां के लोग पहले की तरह ही ज़िंदगी जी रहे हैं. सुरक्षा के लिए लोग हाथ धोते हैं. हालांकि यहां की सरकार कोरोना को ध्यान में रखते हुए अतिथियों से ज़रूर सतर्क रहती है.