'भाई' संग डांस करने पर दूल्हे ने मारा थप्पड़, गुस्से में दुल्हन ने किसी और से कर ली शादी

शादी दो आत्माओं का मिलन होता है. ये जीवन का सबसे बेहतरीन पल होता है. लोग ख़ुशियों के साथ शादी के बंधन में बंधते हैं, 7 जन्म तक जीने-मरने की कसम साथ में खाते हैं. हालांकि, तामिलनाडु में सात फेरों से पहले ही दुल्हन, दूल्हे से नाराज़ हो गई.

'भाई' संग डांस करने पर दूल्हे ने मारा थप्पड़, गुस्से में दुल्हन ने किसी और से कर ली शादी

तमिलनाडु में शादी के दौरान अजीबोगरीब मामला सामने आया है.

शादी दो आत्माओं का मिलन होता है. ये जीवन का सबसे बेहतरीन पल होता है. लोग ख़ुशियों के साथ शादी के बंधन में बंधते हैं, 7 जन्म तक जीने-मरने की कसम साथ में खाते हैं. हालांकि, तामिलनाडु (Tamilnadu News) में सात फेरों से पहले ही दुल्हन, दूल्हे से नाराज़ हो गई और शादी तोड़कर दूसरे लड़के से उसी दिन शादी कर ली. मामला, बस एक थप्पड़ (groom allegedly slapped) का है. दुल्हन अपने कजन (Groom Dancing With Cousin) के साथ अपनी शादी में डांस कर रही थी, ये बात दूल्हे को पसंद नहीं आई. दूल्हे ने सबके सामने ही दुल्हन को थप्पड़ जड़ दिया, जिससे दुल्हन और दुल्हन के परिजन काफी नाराज़ हो गए. नाराज़गी इतनी बढ़ी कि दुल्हन से शादी करने से इंकार कर दूसरे लड़के से सेम डेट पर शादी (Wedding) कर ली.

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक, यह घटना तमिलनाडु (Tamilnadu) के कुड्डालोर (Cuddalore) जिले के पनरुती (Panriti) इलाके की है. यहां बड़ी धूमधाम से शादी की तैयारी चल रही थी. दुल्हा-दुल्हन के साथ घर के परिजन डांस करे थे. दुल्हन डांस कर रही थी, तभी उसका कजन आया और दुल्हन के साथ डांस करने लगा. जानकारी के मुताबिक, डांस करते हुए कजन ने दुल्हन के कंधे पर हाथ रख दिया, जिससे दूल्हे राजा नाराज़ हो गए और दुल्हन को थप्पड़ जड़ दिया.

दूल्हे (Groom) के थप्पड़ मारने पर दुल्हन को गुस्सा आया. गुस्सा आने के बाद दुल्हन ने शादी तोड़ दी और समारोह में आए एक अन्य लड़के से तय मुहूर्त पर शादी कर ली. सोशल मीडिया पर ये ख़बर आग की तरह फैल रही है. लोग इस खबर पर काफी रिॆएक्ट कर रहे हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं, शादी टूटने के बाद पहले वाला दूल्हा पनरुती ऑल वुमेन पुलिस स्टेशन पहुंचा और दुल्हन के साथ ही उसके परिवार वालों के खिलाफ शिकायत दी. लड़के ने पुलिस से मांग की है कि उसे 7 लाख रुपये मुआवज़ा के रूप में दिया जाए. शादी की तैयारियों के लिए इतने पैसे ख़र्च हुए थे.