Strawberry Moon 2022: पूर्णिमा पर नजर आया साल का पहला 'Strawberry Moon', देखें अद्भुत नजारा

Strawberry Moon: बता दें कि मंगलवार रात (14 जून 2022) को चंद्रमा पृथ्वी के अपने निकटतम बिंदु पर था. इस स्थिति में चंद्रमा पहले से ज्यादा बड़ा और चमकीला नजर आया.

Strawberry Moon 2022: पूर्णिमा पर नजर आया साल का पहला 'Strawberry Moon', देखें अद्भुत नजारा

Strawberry Moon 2022: 14 जून की रात आसमान में दिखा 'स्ट्रॉबेरी मून', खूबसूरत नजारे से रोशन हुआ जहां

Strawberry Super Moon 2022: दुनिया ने 14 जून की रात पूर्णिमा के मौके पर आसमान में खूबसूरत नजारा देखा. जून के फुल मून (full moon) को स्ट्रॉबेरी मून (Strawberry Moon) के नाम से जाना जाता है. बता दें कि मंगलवार रात (14 जून 2022) को चंद्रमा पृथ्वी के अपने निकटतम बिंदु पर था. इस स्थिति में चंद्रमा (moon) पहले से ज्यादा बड़ा और चमकीला नजर आया. इस दौरान चंद्रमा पृथ्वी के चारों ओर अपनी कक्षा में अपने निकटतम बिंदु पर था, जिसे पेरिगी कहा जाता है. यही वजह है कि मंगलवार के दिन का मून 'सुपरमून' (supermoon) जैसा दिखाई दिया.

विशेष रूप से ऐसे मौकों पर चंद्रमा पृथ्वी के 222,238 मील के दायरे में संपर्क में आता है. यह अपनी औसत दूरी से 16,000 मील से अधिक करीब है और चंद्रमा यहां नियमित पूर्णिमा की रात की तुलना में 10 प्रतिशत से अधिक चमकीला दिखता है. भारत में यह शानदार नजारा खुली आंखों से देखा गया. 

भारत में 'स्ट्रॉबेरी मून' को मंगलवार के दिन भारतीय समयानुसार 5:22 PM को देखा गया, जिसके बाद से दुनियाभर में लोग चांद की तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं. यहां देखिए 'स्ट्रॉबेरी मून' (Strawberry Moon) का एक वीडियो जैसा कि मंगलवार को मुंबई (Mumbai) से देखा गया.

एक ट्विटर यूजर ने दुबई, संयुक्त अरब अमीरात से 'स्ट्रॉबेरी मून' (Strawberry Moo) की आश्चर्यजनक तस्वीरें साझा की.

यहां देखें कि न्यू यॉर्क के निचले Manhattan से चंद्रमा कितना आश्चर्यजनक लग रहा था.

'स्ट्रॉबेरी मून' अमेरिका के लास वेगास में चमकीला और सुंदर चमक रहा था.

Quebec के Gatineau के एक सोशल मीडिया यूजर ने भी पूर्णिमा की ज़ूम-इन छवि साझा की.

नाम से पता चलता है कि स्ट्रॉबेरी मून गुलाबी रंग का नहीं है. जून महीने की पूर्णिमा को 'स्‍ट्रॉबेरी मून' नाम अमेरिका की जनजातियों द्वारा दिया गया है. बताया जाता है कि इस नाम का इस्तेमाल अल्गोंक्विन, ओजिब्वे, डकोटा और लकोटा लोगों द्वारा किया गया है. हमारे देश में इसे पूर्णिमा ही कहा जाता है, लेकिन पश्चिमी देशों के लिए यह 'स्‍ट्रॉबेरी मून' था.

देखें वीडियो- कियारा आडवाणी, वरुण धवन और अनिल कपूर ने मेट्रो में किया सफर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com