कोरोना के कहर के बीच डब्ल्यूएचओ ने चीन से मांगा कोविड संक्रमण का डेटा

डब्ल्यूएचओ की ओर से शुक्रवार को जारी बयान में कहा गया है कि संक्रमितों की संख्या में भारी वृद्धि के मद्देनजर कोविड-19 की स्थिति पर और जानकारी प्राप्त करने तथा डब्ल्यूएचओ की विशेषज्ञ एवं अन्य सहायता की पेशकश करने के लिए चीन और विश्व स्वास्थ्य संगठन के अधिकारियों के बीच एक उच्च स्तरीय बैठक हुई.

कोरोना के कहर के बीच डब्ल्यूएचओ ने चीन से मांगा कोविड संक्रमण का डेटा

चीन में जीरो कोविड पॉलिसी में दी गई छूट

चीन की ओर से ‘शून्य-कोविड' नीति में ढील दिए जाने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या में हुई भारी वृद्धि के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने एक बार फिर बीजिंग से नियमित तौर पर संक्रमण संबंधी वस्तविक आंकड़ा साझा करने का आग्रह किया है. वैश्विक स्वास्थ्य एजेंसी ने चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों से कहा है कि वे जीनोम अनुक्रमण के अलावा कोविड-19 के चलते अस्पताल में भर्ती होने वालों, जान गंवाने वालों और टीका लगवाने वालों से जुड़ा डेटा साझा करें.

डब्ल्यूएचओ की ओर से शुक्रवार को जारी बयान में कहा गया है कि संक्रमितों की संख्या में भारी वृद्धि के मद्देनजर कोविड-19 की स्थिति पर और जानकारी प्राप्त करने तथा डब्ल्यूएचओ की विशेषज्ञ एवं अन्य सहायता की पेशकश करने के लिए चीन और विश्व स्वास्थ्य संगठन के अधिकारियों के बीच एक उच्च स्तरीय बैठक हुई. बयान के मुताबिक, ‘‘डब्ल्यूएचओ ने एक बार फिर से महामारी की स्थिति पर विशिष्ट और वास्तविक समय के आंकड़ों को नियमित रूप से साझा करने के लिए (चीन से) कहा है. इसमें जीनोम अनुक्रमण का अतिरिक्त डेटा और संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती होने वालों, आईसीयू में इलाज हासिल करने वालों, वायरस से दम तोड़ने वालों और टीके लगवाने वालों से संबंधित आंकड़े शामिल हैं.''

बयान में कहा गया है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अधिक संवेदनशील लोगों को गंभीर संक्रमण और मौत से बचाने के लिए टीकाकरण और एहतियाती खुराक लगवाने के महत्व को दोहराया है. इसमें कहा गया है कि बैठक में चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग और राष्ट्रीय रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र के उच्च अधिकारियों ने महामारी, इसके स्वरूप की निगरानी, टीकाकरण, क्लिनिकल देखभाल, संचार और अनुसंधान एवं विकास के क्षेत्रों में चीन की रणनीति और उसके कार्यों के बारे में डब्ल्यूएचओ को जानकारी दी. बयान के अनुसार, ‘‘चीनी वैज्ञानिकों को डब्ल्यूएचओ के नेतृत्व वाले कोविड-19 विशेषज्ञ नेटवर्क में नजदीक से जुड़ने के लिए आमंत्रित किया गया है, जिसमें कोविड-19 नैदानिक ​​प्रबंधन नेटवर्क भी शामिल है.''

ये भी पढ़ें : गुजरात के हाइवे पर 9 की मौत, 28 घायल : बस चालक को आया था हार्ट अटैक, सामने से आ रही एसयूवी को मारी टक्कर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ये भी पढ़ें : "उनकी नाक के नीचे से 50 विधायक ले गए"; उद्धव ठाकरे पर तंज कसते हुए बोले देवेंद्र फडणवीस



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)