विज्ञापन
Story ProgressBack

अब क्या करेगा मालदीव? भारत से दान में मिले हेलीकॉप्टर को उड़ाने के लिए उसके पास सक्षम पायलट ही नहीं

चीन समर्थक नेता माने जाने वाले मुइज्जू द्वारा 10 मई तक मालदीव में तीन विमानन प्लेटफॉर्म का संचालन करने वाले सभी भारतीय सैन्य कर्मियों को वापस भेजने पर जोर देने के बाद दोनों देशों के संबंधों में गंभीर तनाव पैदा हो गया है.

Read Time: 2 mins
अब क्या करेगा मालदीव? भारत से दान में मिले हेलीकॉप्टर को उड़ाने के लिए उसके पास सक्षम पायलट ही नहीं
मुइज्जू ने भारतीय सैनिकों को मालदीव से वापस भेजने के लिए भारत से संबंध तक खराब कर लिए.
माले:

मालदीव के राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू के आदेश पर 76 भारतीय रक्षा कर्मियों के देश छोड़ने के कुछ दिनों बाद रक्षा मंत्री घासन मौमून ने स्वीकार किया है कि उनकी सेना के पास भारत द्वारा दान में दिए गए तीन विमानों को उड़ाने के लिए सक्षम पायलट नहीं हैं. घासन ने शनिवार को यहां राष्ट्रपति कार्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में यह टिप्पणी की. उन्होंने दो हेलीकॉप्टर और एक डोर्नियर विमान संचालित करने के लिए मालदीव में तैनात भारतीय सैनिकों की वापसी और उनके स्थान पर भारत के असैनिकों के आने से जुड़े सवाल पर यह टिप्पणी की.

एक पत्रकार के सवाल पर घासन ने कहा कि मालदीव राष्ट्रीय रक्षा बल (एमएनडीएफ) के पास मालदीव का कोई सैन्यकर्मी नहीं है, जो भारतीय सेना द्वारा दान में दिए गए तीन विमानों को संचालित कर सके. हालांकि कुछ सैनिकों को पिछली सरकारों के समझौतों के तहत उड़ान का प्रशिक्षण देना शुरू किया गया था.

‘अधाधू डॉट कॉम' समाचार पोर्टल ने घासन के हवाले से कहा, ‘‘यह एक प्रशिक्षण था, जिसके लिए विभिन्न चरण को पार करना आवश्यक था, लेकिन हमारे सैनिक विभिन्न कारण से इसे पूरा नहीं कर पाए थे. इसलिए, इस समय हमारे सैन्य बल में कोई भी ऐसा व्यक्ति नहीं है, जिसके पास दो हेलीकॉप्टर और डोर्नियर को उड़ाने के लिए लाइसेंस हो या पूरी तरह से उड़ान का प्रशिक्षण हो.''

चीन समर्थक नेता माने जाने वाले मुइज्जू द्वारा 10 मई तक मालदीव में तीन विमानन प्लेटफॉर्म का संचालन करने वाले सभी भारतीय सैन्य कर्मियों को वापस भेजने पर जोर देने के बाद दोनों देशों के संबंधों में गंभीर तनाव पैदा हो गया है. भारत पहले ही 76 सैन्य कर्मियों को वापस बुला चुका है. मीडिया की एक खबर में कहा गया है कि हालांकि, मालदीव सरकार का सेनहिया सैन्य अस्पताल में तैनात भारत के डॉक्टरों को हटाने का कोई इरादा नहीं है. अधाधू की खबर में कहा गया है कि घासन की टिप्पणियों के विपरीत पूर्व में अधिकारियों ने दावा किया था कि मालदीव के सैन्य बल में सक्षम पायलट हैं.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
31 राज्यों ने काबू किया, लेकिन ये हैं वो 5 राज्य जहां बढ़ रही भारत की जनसंख्या
अब क्या करेगा मालदीव? भारत से दान में मिले हेलीकॉप्टर को उड़ाने के लिए उसके पास सक्षम पायलट ही नहीं
भारत-UK पार्टनरशिप, यूक्रेन में शांति, AI... PM मोदी ने बताया G7 में सुनक-जेलेंस्की और मैक्रों से क्या हुई बात
Next Article
भारत-UK पार्टनरशिप, यूक्रेन में शांति, AI... PM मोदी ने बताया G7 में सुनक-जेलेंस्की और मैक्रों से क्या हुई बात
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;