यह ख़बर 07 दिसंबर, 2014 को प्रकाशित हुई थी

यमन में एक अमेरिकी और एक दक्षिण अफ्रीकी बंधक की हत्या

यमन में एक अमेरिकी और एक दक्षिण अफ्रीकी बंधक की हत्या

ल्यूक सोमर्स की फाइल फोटो

सना (यमन):

यमन में अलकायदा आतंकवादियों द्वारा बंधक बना लिए गए एक अमेरिकी फोटोपत्रकार और एक दक्षिण अफ्रीकी शिक्षक की हत्या कर दी गई।

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने एक बयान में कहा कि उन्होंने सैन्य कार्रवाई का आदेश दिया था, लेकिन ल्यूक सोमर्स और पीरे कोर्की की हत्या कर दी गयी है। ओबामा ने कहा कि ल्यूक की जान खतरे में होने के संकेत थे। इस आधार पर उन्होंने ल्यूक और उसी के साथ बंधक अन्य लोगों के बचाव अभियान की मंजूरी दी।

सहायता समूह गिफ्ट ऑफ गिवर्स ने बाद में दूसरे बंधक की पहचान दक्षिण अफ्रीकी शिक्षक पीरे कोर्की के रूप में की। उसे कल रिहा किया जाना था। अलकायदा ने गुरुवार को एक वीडियो जारी कर अमेरिका द्वारा अपनी मांग नहीं माने जाने पर ल्यूक को मारने की धमकी दी थी।

उसकी बहन लूसी सोमर्स ने बताया कि उसे और उनके पिता को एफबीआई एजेंट से पता चला कि आज करीब साढ़े दस बजे ल्यूक को मार डाला गया।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यमन के राष्ट्रीय सुरक्षा प्रमुख मेजर जनरल अली अल अहमदी ने कहा, 'अलकायदा ने आज ल्यूक को मार डालने की बात कही थी अतएव उसे बचाने की कोशिश हुई लेकिन दुर्भाग्य से (हमारे) हमले से पहले या उसके बाद उन्होंने उसे भून डाला।' सितंबर 2013 में सना से ल्यूक को अगवा कर लिया गया था।