ईरान के साथ कथित तेल सौदे को लेकर अमेरिका ने भारतीय कंपनी पर लगाया प्रतिबंध

भारत (India) ने डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के शासन काल में 2019 में ईरान से कच्चे तेल (Crude oil) का आयात बंद कर दिया था.

ईरान के साथ कथित तेल सौदे को लेकर अमेरिका ने भारतीय कंपनी पर लगाया प्रतिबंध

अमेरिका ने भारतीय कंपनी पर लगाया प्रतिबंध लगा दिया है.

नई दिल्ली:

अमेरिका ने ईरान के साथ डील करने के आरोप में एक भारतीय कंपनी पर बड़ी कार्रवाई की है. बाइडेन सरकार ने ईरान से हजारों करोड़ रुपये के पेट्रोलियम और केमिकल प्रोडक्ट खरीदने वाली साउथ और ईस्ट एशिया की 8 कंपनियों पर प्रतिबंध लगा दिया है. इसमें मुंबई बेस्ड एक भारतीय कंपनी (Mumbai Based Indian Company) का नाम भी शामिल है जिसका नाम है तिबालाजी पेट्रोकेम प्राइवेट लिमिटेड (Tibalaji Petrochem Pvt Ltd).

ऐसा पहली बार है जब किसी भारतीय कंपनी पर यूएस ने ईरान के साथ डील करने के आरोप पर कार्रवाई की गई है. अमेरिका के ट्रेजरी विभाग ने बताया है कि यूएस की कार्रवाई उन ईरानी दलालों और हॉन्ग कॉन्ग, यूएई और भारत की कुछ कंपनियों पर की गई है जो ईरान पर यूएस प्रतिबंध के बाद भी कुछ पेट्रो केमिकल प्रोडक्ट्स (Petrol Chemical Product) खरीद रहें थे.

भारतीय पेट्रो कंपनी Tibalaji पर आरोप है कि यह चीन के रास्ते प्रतिबंधित ईरानी दलाल कंपनी ट्रिलियंस पेट्रोकेमिकल और फारस की खाड़ी पेट्रोकेमिकल उद्योग वाणिज्यिक के जरिए करोड़ों रुपये के पेट्रो केमिकल प्रोडक्ट खरीद रही थी.

बता दें कि ईरान की इन दोनों दलाल कंपनियों पर यूएस ने रोक (US Sanctions on Iran) लगा रखी है. अमेरिका के ट्रेजरी विभाग भारत की कंपनी समेत कुल आठ कंपनियों पर ईरान के साथ डील करने के आरोप में प्रतिबंध लगाया है. इसमें यूएई, चीन और हॉगकॉग की कंपनियां शामिल है.  

ये भी पढ़ें : 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

       

Video: NDTV से बोले शशि थरूर - " मोदी शायद हमारे देश में हिंदी के सबसे बेहतरीन स्पीकर"

अन्य खबरें