अफगानिस्तान में 'वैश्विक आतंकी खतरे' का मुकाबला करने के लिए विश्व को एकजुट होना चाहिए : UN चीफ

करीब 20 साल बाद तालिबान ने अफगानिस्तान पर एक बार फिर कब्जा कर लिया है.

अफगानिस्तान में 'वैश्विक आतंकी खतरे' का मुकाबला करने के लिए विश्व को एकजुट होना चाहिए : UN चीफ

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस.

न्यूयॉर्क:

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने तालिबान द्वारा युद्धग्रस्त देश पर नियंत्रण करने के बाद 'अफगानिस्तान में वैश्विक आतंकवादी खतरे को दबाने' के लिए सोमवार को दुनिया को एक साथ काम करने का आह्वान किया. गुटेरेस ने अफगानिस्तान पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आपात बैठक में कहा, 'अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को यह सुनिश्चित करने के लिए एकजुट होना चाहिए कि अफगानिस्तान को फिर कभी आतंकवादी संगठनों के लिए एक मंच या सुरक्षित पनाहगाह के रूप में इस्तेमाल न किया जाए.'

तालिबान के आतंकवादियों द्वारा रविवार को राजधानी काबुल में प्रवेश करने के बाद, अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के विदेश भाग जाने के बाद, न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र के मुख्यालय में जल्दबाजी में बैठक बुलाई गई थी.

'अफगान हिंदू, सिखों को भारत आने में करेंगे मदद' : अफगानिस्तान संकट पर बोली सरकार


गुटेरेस ने कहा, 'मैं सुरक्षा परिषद और पूरे अंतरराष्ट्रीय समुदाय से एक साथ खड़े होने, एक साथ काम करने और एक साथ काम करने की अपील करता हूं.' उन्होंने राष्ट्रों से 'अफगानिस्तान में वैश्विक आतंकवादी खतरे को दबाने और बुनियादी मानवाधिकारों का सम्मान करने की गारंटी देने के लिए अपने निपटान में सभी साधनों का उपयोग करने का आग्रह किया.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


करीब 20 साल बाद तालिबान ने अफगानिस्तान पर एक बार फिर कब्जा कर लिया है. हजारों लोग काबुल एयरपोर्ट पर भीड़ जमा हो गई और देश छोड़कर जाने की कोशिश कर रहे थे.