ब्रिटिश पीएम के मंत्रिमंडल में फेरबदल के बावजूद ऋषि सुनक और प्रीति पटेल अपने पदों पर बने रहेंगे

कैबिनेट से न्याय मंत्री रोबर्ट बकलैंड, शिक्षा मंत्री गेविन विलियमसन और आवास मंत्री रोबर्ट जेनरिक को बाहर का रास्ता दिखाया गया है. गेविन विलियमसन ने ट्विटर बताया कि उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया है और 2019 से शिक्षा मंत्री के तौर पर सेवा देना सौभाग्य था.

ब्रिटिश पीएम के मंत्रिमंडल में फेरबदल के बावजूद ऋषि सुनक और प्रीति पटेल अपने पदों पर बने रहेंगे

यूके कैबिनेट में भारतीय मूल के दो वरिष्ठ मंत्रियों ऋषि सुनक और प्रीति पटेल के विभागों में बदलाव नहीं

लंदन:

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने बुधवार को अपने मंत्रिमंडल में फेरबदल (Cabinet Shuffles) किया, लेकिन भारतीय मूल के दो वरिष्ठ मंत्रियों ऋषि सुनक ( Rishi Sunak) और प्रीति पटेल (Priti Patel) के विभागों में बदलाव नहीं किया गया.सुनक वित्त मंत्री और पटेल गृह मंत्री बनी रहेंगी. इस तरह की अटकलें  थी कि उन्हें पद से हटाया जा सकता है. सुनक इंफोसिस के सह संस्थापक नारायण मूर्ति के दामाद हैं और वह पिछले साल फरवरी से देश के वित्तमंत्री हैं और उन्होंने कोविड-19 महामारी को लेकर ब्रिटेन के आर्थिक प्रबंधन की अगुवाई की थी. गुजराती-उगांडा मूल के माता-पिता की संतान पटेल जुलाई 2019 से गृह मंत्री हैं. बहरहाल, जिन वरिष्ठ मंत्रियों के विभागों में फेरबदल किया गया है, उनमें विदेश मंत्री डोमिनिक राब शामिल हैं. उन्हें न्याय मंत्रालय का जिम्मा दिया गया है साथ में उनके पास ‘लॉर्ड चांसलर' एवं उप प्रधानमंत्री की भूमिकाएं रहेंगी.


अफगानिस्तान की सत्ता तालिबान के हाथों में जाने और काबुल से लोगों को निकालने को लेकर हाल के हफ्तों में आलोचनाओं का सामना कर रहे राब के विदेश, राष्ट्रमंडल एवं विकास कार्यालय (एफसीडीओ) के प्रमुख के पद पर बने रहने को लेकर अटकलें थीं. यह ब्रिटिश सरकार में शीर्ष स्तर का कैबिनेट पद है. उनके स्थान पर लिज ट्रूस को विदेश मंत्री बनाया गया जो पहले अंतरराष्ट्रीय व्यापार मंत्री थीं. उन्होंने इससे हफ्ते की शुरुआत में वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल के साथ व्यापार को लेकर वार्ता की है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कैबिनेट से न्याय मंत्री रोबर्ट बकलैंड, शिक्षा मंत्री गेविन विलियमसन और आवास मंत्री रोबर्ट जेनरिक को बाहर का रास्ता दिखाया गया है. गेविन विलियमसन ने ट्विटर बताया कि उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया है और 2019 से शिक्षा मंत्री के तौर पर सेवा देना सौभाग्य था.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)