ओमिक्रॉन ही करेगा कोरोना को खत्म! एक्सपर्ट्स से जानें कैसे

कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि ज्यादा लोगों के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने और फिर ठीक होने के साथ ज्यादा से ज्यादा वैक्सीनेशन किसी भी प्रकार के कोविड के खिलाफ सामूहिक सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए अहम हो सकता है. 

ओमिक्रॉन ही करेगा कोरोना को खत्म! एक्सपर्ट्स से जानें कैसे

ओमिक्रॉन से पूरी दुनिया में मचा हाहाकार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पेरिस:

कोरोना के नए-नए वेरिएंट वैक्सीन निर्माताओं को वैक्सीन का फिर से टेस्ट करने के लिए विवश कर रहे हैं. कोविड -19 का कारण बनने वाला वायरस अत्यधिक अप्रत्याशित साबित हुआ है. हालांकि, पूरी दुनिया में तेजी से फैल रहे नए वेरिएंट (ओमिक्रॉन) को लेकर कुछ एक्सपर्ट्स आश्वस्त है कि यह वायरस अपेक्षाकृत एक हल्की मौसमी बीमारी के रूप में विकसित हो रहा है यानी आगे चलकर वायरस एक सामान्य बीमारी में तब्दील हो सकता है. 
 
ओमिक्रॉन विशेष रूप से ज्यादा संक्रामक साबित हुआ है. इसने वैक्सीन से या फिर बीमारी का शिकार होकर इम्युनिटी प्राप्त करने वाले लोगों को भी शिकार बनाया. 

भले ही ओमिक्रॉन की वजह से दुनियाभर के देशों में रिकॉर्ड मामले सामने आ रहे हैं, लेकिन यह पहले के वेरिएंट्स की तुलना में सामान्य तौर पर कम गंभीर दिख रहा है. 

कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि ज्यादा लोगों के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने और फिर ठीक होने के साथ ज्यादा से ज्यादा वैक्सीनेशन किसी भी प्रकार के कोविड के खिलाफ सामूहिक सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए अहम हो सकता है. 

ओमिक्रॉन की वजह से अस्पताल में दाखिले की दर कम होना भी इस बात का सुझाव देता है कि कोविड-19 एक कमजोर स्वरूप के रूप में विकसित हो सकता है. 

फ्रांस के विशेषज्ञ एलेन फिशर ने कहा, "शायद हम एक ज्यादा सामान्य वायरस की तरफ क्रमागत विकास की शुरुआत देख रहे हैं."

READ ALSO: सरकार को चिंता- भारत में क्या असर डालेगा Omicron, होम आइसोलेशन की गाइडलाइन बदली

क्लिनिकल वायरोलॉजिस्ट जूलियन टैंग ने ओमिक्रॉन की कम गंभीरता पर यूके के एक अध्ययन पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मैंने कल्पना की थी कि एक दिन सबसे ज्यादा प्रभावित लोगों के लिए दोबारा टीकाकरण और अन्य उपाय जरूरी होंगे. 

उन्होंने कहा, "मुझे अब भी उम्मीद है कि यह वायरस अंतत: अन्य कॉमन कोल्ड कोरोना वायरस की तरह ही बन जाएगा. शायद अगले एक या दो साल में."

इन अनुमानों या अटकलों को सार्वजनिक स्वास्थ्य अधिकारियों ने अपनाया है. 

READ ALSO: Omicron को हल्के में न लें! WHO की चेतावनी- बढ़ते केस ज्यादा खतरनाक वेरिएंट को दे सकते हैं जन्म

फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्री ओलिवियर वेरन ने इस हफ्ते संसद के समक्ष कहा, "हो सकता है कि यह वह लहर जो हमें एक प्रकार की इम्युनिटी हासिल करने की अनुमति देती है."

इससे पहले, इजराइल के स्वास्थ्य मंत्री नचमन ऐश ने एक इजरायली रेडियो स्टेशन को बताया कि हर्ड इम्युनिटी "संभव" थी. "लेकिन हम संक्रमण के माध्यम से उस तक नहीं पहुंचना चाहते. उन्होंने कहा, "हम चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा लोगों के टीकाकरण के कारण ऐसा हो."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: ओमिक्रॉन के खतरे के बीच फ्रांस में मिला कोरोना का एक और नया वैरिएंट 'IHU'