नेपाल के पीएम ओली ने देश से राजनीतिक मतभेद भुलाकर एक होने की अपील की

नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने देश को संबोधित किया, कहा- राजनीतिक समस्या को आपसी चर्चा के माध्यम से हल किया जाएगा

नेपाल के पीएम ओली ने देश से राजनीतिक मतभेद भुलाकर एक होने की अपील की

नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने देश को संबोधित किया.

नई दिल्ली:

नेपाल में जारी राजनीतिक उथल पुथल के बीच प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने कोरोना संकट और देश भर में बाढ़ और भूस्खलन से हुए नुकसान पर ध्यान केंद्रित किया है. प्रधानमंत्री ने पार्टी से महामारी और प्राकृतिक आपदाओं के दौरान भी पार्टी के भीतर नियमित बहस पर विचार करने का आग्रह किया है. उन्होंने उल्लेख किया है कि राजनीतिक समस्या को आपसी चर्चा के माध्यम से हल किया जाएगा. प्रधानमंत्री ओली ने शुक्रवार की शाम को देश को संबोधित किया.

पीएम ओली ने आंतरिक राजनीतिक मतभेद को भुलाकर विपत्ति के समय देश से एक होने की अपील की. उन्होंने कहा कि "वर्तमान राजनीतिक परिदृश्य ने राजनीतिक स्थिरता, स्थिरता और स्थापित प्रणाली के बारे में कुछ के बीच चिंताओं और संवेदनाओं को उठाया हो सकता है." उन्होंने कहा कि ''मैं देश की संप्रभुता और भौगोलिक अखंडता को बनाए रखने की पूरी कोशिश करूंगा.''


ओली ने आंतरिक अशांति को "सामान्य और लोगों की जिंदगी बचाने की ज़िम्मेदारी" के रूप में वर्णित किया. उन्होंने यह स्पष्ट किया कि लोगों को बीमारी और भूख से बचाना सरकार की जिम्मेदारी है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पीएम ओली ने कहा कि  “इस समय, आंतरिक संघर्ष या समस्याओं में शामिल होकर लोगों के जीवन को बचाने की जिम्मेदारी से कोई भी विचलित नहीं हो सकता है. जैसा कि मैंने पहले कहा है, सरकार अपने लोगों को बीमारी और भूख से बचाने के लिए अपनी ज़िम्मेदारी से पीछे नहीं हटेगी.”