मैक्सिको में मातृभाषा बोलने पर 14 साल के किशोर को साथियों ने ही अल्कोहल डालकर जलाया

बच्चे के परिवार के अनुसार -जब 14 वर्षीय बच्चे ने महसूस किया कि उसकी पतलून गीली हो गई है और वह खड़ा हो गया तभी उनमें से एक ने ज़मोरानो को आग लगा दी. बच्चा बुरी तरह जल गया और इसी सप्ताह उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिली है.

मैक्सिको में मातृभाषा बोलने पर 14 साल के किशोर को साथियों ने ही अल्कोहल डालकर जलाया

मैक्सिको में क्लास में बच्चे को जिंदा जलाया

एक मैक्सिकन स्कूली छात्र को कक्षा में आग लगा दी गई, जिससे वह बुरी तरह जला गया . उसका "एकमात्र अपराध" यही था कि वह नस्लीय भेदभाव को खत्म करने के लिए संघर्ष कर रहे इस देश में वह सहपाठियों के साथ अपनी मातृभाषा में बात कर रहा था. जून में दो सहपाठियों पर  सेंट्रल स्टेटऑफ क्वेरेटारो के एक हाई स्कूल में जुआन ज़मोरानो की सीट पर शराब डालने का आरोप है.

बच्चे के परिवार के अनुसार -जब 14 वर्षीय बच्चे ने महसूस किया कि उसकी पतलून गीली हो गई है और वह खड़ा हो गया तभी उनमें से एक ने ज़मोरानो को आग लगा दी. बच्चा बुरी तरह जल गया और इसी सप्ताह उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिली है.

कथित हमलावरों और स्कूल अधिकारियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने वाले उनके परिवार के वकीलों के अनुसार, जुआन को अपनी स्वदेशी ओटोमी समुदाय से जुड़े होने के कारण पहले ही हफ्तों तक खराब व्यवहार को बर्दाश्त करना पड़ा था. मैक्सिको में इन ओटोमी समुदाय  की आबादी 3.5 लाख है. ओटोमी की तरह मैक्सिको में कई अन्य समुदाय भी हैं. 

परिवार के वकीलों में से एक अर्नेस्टो फ्रैंको ने AFP को बताया कि उनकी ओटोमी भाषा जुआन की मातृभाषा है "लेकिन वह इसे ज्यादा बोलना पसंद नहीं करता क्योंकि इससे वह उपहास, उत्पीड़न और धमकी का शिकार होता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
       

परिवार ने मीडिया में आरोप लगाया है कि ज़मोरानो की टीचर ने भी उसे इसी बात के लिए परेशान किया. जमोरानो के पिता ने इसे हत्या की कोशिश बताते हुए कहा कि हम उनकी कक्षा का हिस्सा नहीं हैं, हम उनकी जाति के नहीं हैं. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)