Instagram को बाल यौन शोषण नेटवर्क का "सबसे अहम प्लेटफॉर्म" बताने वाली रिपोर्ट पर Meta ने दिया जवाब

कंपनी ने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि उसका ध्यान किशोरों और वयस्कों के बीच अवांछित संपर्क को रोककर किशोरों को सुरक्षित रखने पर है, जिन्हें वे नहीं जानते हैं. 

Instagram को बाल यौन शोषण नेटवर्क का

मेटा ने कहा कि बाल यौन शोषण के खिलाफ हमारे पास विस्तृत और मजबूत नीतियां हैं. (प्रतीकात्‍मक)

वॉल स्‍ट्रीट जर्नल ने अपनी एक रिपोर्ट में इंस्‍टाग्राम को बाल यौन शोषण का "सबसे अहम प्‍लेटफॉर्म" बताने के बाद मेटा ने इसे लेकर विस्तृत प्रतिक्रिया दी है. रिपोर्ट में दावा किया गया कि बाल यौन शोषण दिखाने वाली सामग्री को बढ़ावा देने और बेचने के लिए पीडोफाइल नेटवर्क द्वारा इसके मेटा प्लेटफॉर्म का उपयोग किया जा रहा है. NDTV को दिए अपने बयान में मेटा के एक प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी किशोरों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है और इस दिशा में काम कर रही है. स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के साथ की गई पड़ताल के आधार पर वॉल स्‍ट्रीट जर्नल ने अपनी रिपोर्ट में डब्ल्यूएसजे की रिपोर्ट में कहा है कि इंस्टाग्राम के एल्गोरिदम ने प्लेटफॉर्म पर अवैध "बाल-यौन सामग्री" की बिक्री का विज्ञापन किया. 

कुछ अकाउंट ने खरीदारों को "कमीशन विशिष्ट कार्य" करने या "मीट अप" की व्यवस्था करने की अनुमति भी दी. 

इसके साथ ही जांच में पाया गया कि इंस्टाग्राम ने यूजर्स को #pedowwhore, #preteensex और #pedobait जैसे बाल-यौन शोषण हैशटैग द्वारा सर्च करने की अनुमति दी. 

इस पर प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त करते हुए मेटा के प्रवक्ता ने कहा कि रिपोर्ट कहती है कि ये अकाउंट अक्सर "ऑफ-प्लेटफॉर्म सामग्री ट्रेडिंग साइट्स" से लिंक होते हैं. 

मेटा प्रवक्ता ने NDTV को बताया, "बाल यौन शोषण सामग्री और बच्चों के साथ अनुचित बातचीत के साथ ही बाल नग्नता, दुर्व्यवहार और शोषण के खिलाफ हमारे पास विस्तृत और मजबूत नीतियां हैं."

प्रवक्ता ने आगे कहा, "हम नाबालिगों का यौन शोषण करने वाली सामग्री को हटाते हैं और उन खातों, समूहों, पृष्ठों और प्रोफाइल को हटाते हैं जो कैप्शन, हैशटैग या अनुचित संकेतों वाली टिप्पणियों के साथ बच्चों की मासूम छवियों को साझा करने के लिए समर्पित हैं."

किशोरों को सुरक्षित रखने पर ध्‍यान : मेटा 
कंपनी ने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि उसका ध्यान किशोरों और वयस्कों के बीच अवांछित संपर्क को रोककर किशोरों को सुरक्षित रखने पर है, जिन्हें वे नहीं जानते हैं. 

उन्‍होंने कहा, "हम संभावित रूप से संदिग्ध वयस्कों को किशोरों को खोजने, उनका पीछा करने या उनके साथ बातचीत करने से रोकते हैं, जब वे इंस्टाग्राम से जुड़ते हैं तो स्वचालित रूप से प्राइवेट अकाउंट में किशोरों को डालते हैं, और किशोरों को सूचित करते हैं कि ये वयस्क उन्‍हें फॉलो या मैसेज करने का प्रयास करते हैं."

बाल यौन शोषण से जुड़ी सामग्री हटाने का दावा 
मेटा ने कहा कि उसने प्रौद्योगिकी विकसित करने में भारी निवेश किया है "जो बाल शोषण सामग्री को ढूंढता है इससे पहले कि कोई हमें रिपोर्ट करे". कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि 2022 की चौथी तिमाही में उसकी तकनीक ने फेसबुक और इंस्टाग्राम से 34 मिलियन (3 करोड़ 40 लाख) से अधिक बाल यौन शोषण सामग्री को हटाया है. 

ये भी पढ़ें :

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

* Meta ने भारत में शुरू की वेरिफाइड अकाउंट सर्विस, जानें कितने रुपये में ले सकेंगे ब्लू टिक
* मेटा ने फिर निकाले काफी कर्मचारी, भारत में टॉप एग्जीक्यूटिव भी लिस्ट में
* मेटा इंडिया पार्टनरशिप प्रमुख मनीष चोपड़ा ने दिया इस्तीफा