Israel Palestine Conflict: IDF के प्रवक्ता बोले- हमारा मकसद हमास के आतंकियों और उनके ठिकानों को नष्ट करना

इस्राइल डिफेंस फोर्सेज (IDF) के अंतरराष्ट्रीय प्रवक्ता ले. कर्नल जोनाथन कॉनरीकस ने कहा, 'इस्राइल के जवाबी हमले का मकसद सिर्फ और सिर्फ हमास के आतंकी और उनके ठिकानों को नष्ट करना है.'

Israel Palestine Conflict: IDF के प्रवक्ता बोले- हमारा मकसद हमास के आतंकियों और उनके ठिकानों को नष्ट करना

IDF के अंतरराष्ट्रीय प्रवक्ता ले. कर्नल जोनाथन कॉनरीकस.

खास बातें

  • इस्राइल और फिलीस्तीन के बीच जारी है टकराव
  • अब तक कुल 11 इस्राइली नागरिकों की मौत
  • IDF के अंतरराष्ट्रीय प्रवक्ता हैं ले. कर्नल जोनाथन
यरूशलम:

इस्राइल और फिलीस्तीन (Israel and Palestine Conflict) के बीच तनाव की स्थिति बरकरार है. इस्राइल डिफेंस फोर्सेज (IDF) के अंतरराष्ट्रीय प्रवक्ता ले. कर्नल जोनाथन कॉनरीकस ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'पिछले चार घंटे में गाजा से रॉकेट हमले में दो इस्राइली नागरिक मारे गए हैं. हमास के रॉकेट हमलों में अब तक कुल 11 इस्राइली नागरिक मारे गए हैं. इस्राइल के जवाबी हमले का मकसद सिर्फ और सिर्फ हमास के आतंकी और उनके ठिकानों को नष्ट करना है. हमास के हमले के तौर-तरीकों का हमने लंबे समय तक अध्ययन किया है. हमारी कोशिश नागरिकों को नुकसान पहुंचाना नहीं है. हम पूरी कोशिश भी करते हैं लेकिन हमास लोगों के घरों की आड़ में ठिकाने बनाकर हमले करता है.'

उन्होंने कहा, 'हमास ने सबमरीन के जरिए भी हमले की कोशिश की, जिसे हमने समय रहते इंटरसेप्ट कर लिया था. हमने अभी तक लगभग 130 हमास और इस्लामिक जेहाद के आतंकियों का सफाया किया है, ये एक मोटा आंकड़ा है. हम जवाबी कार्रवाई के लिए अत्याधुनिक उपकरणों का इस्तेमाल कर रहे हैं. हमारा मकसद नागरिकों की सुरक्षा है. हम सिर्फ हमास के ठिकानों को चुन-चुनकर निशाना बना रहे हैं. हमास ने पूरे गाजा पट्टी में रॉकेट लॉन्चर सिस्टम को फैला रखा है. हम जब तक दुश्मन के रॉकेट हमले की ताकत को नेस्तनाबूद नहीं कर देते, तब तक कार्रवाई का अंत नहीं हो सकता. ये चुनौती भरा काम है इसलिए हम और दूसरे तरीकों से भी दुश्मन की हमले की क्षमता को तबाह करने की कोशिश कर रहे हैं.'

शिकागो : इजराइल के समर्थन में भारतीय अमेरिकियों की रैलियां, हमास पर लगाए आरोप

उन्होंने आगे कहा, 'जो नागरिक हमले की जद में आए हैं, वो हमारे पूरी एहतियात के बावजूद आए हैं. हमारा मकसद उनको नुकसान पहुंचाना नहीं था. एक मेट्रो टनल में हमास के ठिकाने पर हमला किया गया था, टनल के साथ लगने वाली कुछ इमारतों को भी नुकसान पहुंचा, जो हमारा मकसद नहीं था. हमने अभी ये सार्वजनिक तौर पर नहीं कहा कि हम हमास की सैन्य ताकतों को किस हद तक तबाह करना चाहते हैं लेकिन इतना तय है कि जितना हो सके, तबाह करना चाहते हैं.'

जोनाथन कॉनरीकस ने कहा, 'हमास की रॉकेट से हमले की क्षमता को पूरी तरह नहीं तो अधिक से अधिक खत्म करना चाहते हैं. हमले की पहली रात हमास का एक रॉकेट लक्ष्य से पहले ही गिर गया और गाजा के घर को नुकसान पहुंचा लेकिन हमास ने इसकी तोहमत इस्राइल पर लगाने में कसर नहीं छोड़ी. हमास नागरिक इलाकों से भी रॉकेट हमले कर रहा है.' अस्पताल और शरणार्थी शिविर को नुकसान पहुंचने के सवाल पर वह बोले, 'हेल्थ केयर फैसिलिटी, स्कूल, वॉटर टैंक और दूसरे नागरिक ठिकानों की हमने निशानदेही की है और उन पर हमारी तरफ से हमले नहीं किए जाते.'

संघर्ष के बीच इजरायली PM नेतन्याहू के तल्ख तेवर, कहा- अभी खत्म नहीं हुआ है ऑपरेशन, ये तब तक चलेगा जब तक...


उन्होंने कहा, 'हमास और इस्लामिक जेहाद ने मिलकर अभी तक 4000 से अधिक रॉकेट दागे हैं. हमास के पास अभी भी रॉकेट और उसे दागने की क्षमता है. हमास ने अपने सैन्य ढांचे को काफी फैला रखा है. कोई एक केन्द्रीयकृत ठिकाना नहीं है. जैसा कि हमने बताया हमास मेट्रो टनल का भी इस्तेमाल कर रहा था, जिसको हमने निशाना बनाया. हम इस्राइल की सुरक्षा और इसके नागरिकों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध हैं. साथ ही हम किसी नागरिक को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहते.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: इस्राइल और फिलीस्तीन के बीच विवाद क्यों?