विज्ञापन
Story ProgressBack

"...हमारे पास कोई विकल्प नहीं था" : इजरायल हमले पर संयुक्त राष्ट्र में बोला ईरान

इस महीने की शुरुआत में दमिश्क में ईरानी वाणिज्य दूतावास पर इज़रायल के हमले के बाद अमीर सईद इरावानी ने कहा, "सुरक्षा परिषद... अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा बनाए रखने के अपने कर्तव्य में विफल रही है".

Read Time: 2 mins

ईरान द्वारा इजरायल पर शनिवार देर रात 80 ड्रोन और मिसाइल से हमला किया था.

ईरान (Iran) के संयुक्त राष्ट्र दूत ने रविवार को सुरक्षा परिषद को बताया कि इज़रायल पर अपने हमले में "आत्मरक्षा के अंतर्निहित अधिकार" का प्रयोग कर रहा था. 

इस महीने की शुरुआत में दमिश्क में ईरानी वाणिज्य दूतावास पर इज़रायल के हमले के बाद अमीर सईद इरावानी ने कहा, "सुरक्षा परिषद... अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा बनाए रखने के अपने कर्तव्य में विफल रही है".

Advertisement

इसलिए, तेहरान के पास प्रतिक्रिया देने के अलावा "कोई विकल्प नहीं" था, उन्होंने कहा, उनका देश "युद्ध नहीं चाहता है", लेकिन किसी भी "खतरे या आक्रामकता" का जवाब देगा. 

ईरान द्वारा इजरायल पर शनिवार देर रात 80 ड्रोन और मिसाइल से हमला किया था. इस पर तुरंत जवाब देते हुए इजरायल ने आयरन डोम रक्षा प्रणाली का इस्तेमाल करते हुए इन्हें नष्ट कर दिया था. इस वजह से इजरायल में हमले के कारण मामलू क्षति हुई. हालांकि, ईरान और इजरायल के बीच बढ़ रहा तनाव अन्य देशों के लिए भी चिंता का विषय बना हुआ है. 

यह भी पढ़ें :

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
मालदीव के साथ एफटीए चाहता है भारत : मालदीव के मंत्री
"...हमारे पास कोई विकल्प नहीं था" : इजरायल हमले पर संयुक्त राष्ट्र में बोला ईरान
ईरान ने पुर्तगाली ध्वज वाले जहाज के चालक दल में शामिल भारतीय सदस्यों को राजनयिक पहुंच प्रदान की
Next Article
ईरान ने पुर्तगाली ध्वज वाले जहाज के चालक दल में शामिल भारतीय सदस्यों को राजनयिक पहुंच प्रदान की
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;