फ्रांस ने कोविशील्ड को वैक्सीन पास के लिए मान्यता दी, यात्रा नियम सख्त किए

COVID-19 महामारी के बीच यात्रियों को देश में प्रवेश की अनुमति देने के लिए कोविशील्ड वैक्सीन को मान्यता देने वाला फ्रांस 14 वां यूरोपीय संघ का सदस्य

फ्रांस ने कोविशील्ड को वैक्सीन पास के लिए मान्यता दी, यात्रा नियम सख्त किए

प्रतीकात्मक फोटो.

पेरिस:

फ्रांस ऐसे लोगों पर विचार करेगा जिनके Pfizer/BioNTech, मॉडर्न और एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की दूसरी खुराक लेने के बाद एक हफ्ते का समय बीत चुका है. पहले यह अवधि 14 दिन की निर्धारित थी. जॉनसन एंड जॉनसन जैब के 28 दिन के बाद विचार किया जाएगा. प्रधानमंत्री जीन कास्टेक्स ने शनिवार को एक बयान में कहा, देश सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा बनाए गए एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की कोविशील्ड की एक डोज के टीकाकरण को भी स्वीकार करेगा.

कोरोना महामारी के बीच यात्रियों को प्रवेश की अनुमति देने के लिए कोविशील्ड वैक्सीन को मान्यता देने वाला फ्रांस 14 वां यूरोपीय संघ का सदस्य है. बेल्जियम, ऑस्ट्रिया, बुल्गारिया, एस्टोनिया, फिनलैंड, जर्मनी, ग्रीस, हंगरी, आयरलैंड, लातविया, नीदरलैंड, स्लोवेनिया, स्पेन और स्वीडन ने पहले ही वैक्सीन को मंजूरी दे दी है.


पूरी तरह यानी वैक्सीन की दोनों डोज नहीं लगवाने वालों को यूरोपीय देशों में जाने से पहले बीते 24 घंटों के भीतर की कोविड का निगेटिव टेस्ट दिखानी होगी. यूनाइटेड किंगडम, स्पेन, पुर्तगाल, साइप्रस, ग्रीस और नीदरलैंड से आगमन नए नियम के अधीन होगा, जो शनिवार की मध्यरात्रि से लागू होगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अब तक यूनाइटेड किंगडम से आने वाले लोगों को पिछले 48 घंटों के भीतर लिया गया निगेटिव टेस्ट दिखाना आवश्यक था. स्पेन, पुर्तगाल, साइप्रस, नीदरलैंड और ग्रीस से आने वाले लोगों को 72 घंटे के भीतर की टेस्ट रिपोर्ट दिखानी पड़ती है.