RLD को 25 लाख वोट मिले, इतने में तो कई राज्यों में बन जाती हैं सरकारें : जयंत चौधरी

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में अपनी पार्टी राष्ट्रीय लोक दल के प्रदर्शन से संतुष्ट हैं जयंत चौधरी

RLD को 25 लाख वोट मिले, इतने में तो कई राज्यों में बन जाती हैं सरकारें : जयंत चौधरी

राष्ट्रीय लोक दल (RLD) के अध्यक्ष जयंत चौधरी (फाइल फोटो).

मेरठ:

राष्ट्रीय लोक दल (RLD) के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने हाल में संपन्न विधानसभा चुनाव में अपनी पार्टी के प्रदर्शन पर संतोष जाहिर करते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि उनकी पार्टी को 26 लाख वोट मिले हैं और इतने वोट में तो कई राज्यों में सरकार बन जाती है. जयंत ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में इस बात को मानने से साफ इनकार कर दिया कि हाल में संपन्न राज्य विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) को अपेक्षित कामयाबी नहीं मिली है.

जयंत चौधरी ने कहा, 'रालोद को 26 लाख वोट मिले हैं. ये कम नहीं हैं. इतने वोट में तो कई राज्यो में सरकार बन जाती है. सभी वर्गों और संप्रदायों के लोगों ने विशेषकर युवाओं और किसानों ने पार्टी को जमकर वोट दिया. कई सीटों पर हम बहुत ही कम अंतर से चुनाव हारे हैं.'

हालांकि जयंत ने कहा, 'फिर भी, जहां कमी रह गई है उसकी हम सभी बैठकर समीक्षा करेंगे और गलतियों से सबक लेकर आगे बढ़ेंगे.'

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा के हाल में संपन्न चुनाव में राष्ट्रीय लोक दल ने 33 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे थे जिनमें से आठ को जीत हासिल हुई. रालोद ने यह चुनाव समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ गठबंधन करके लड़ा था.

मेरठ-गाजियाबाद स्थानीय प्राधिकारी क्षेत्र के विधान परिषद चुनाव के लिए सपा-रालोद गठबंधन कार्यकर्ताओं की एक बैठक में पहुंचे जयंत भाजपा पर काफी आक्रामक दिखे. उन्होंने कहा कि भाजपा ने चुनाव की गरिमा को तार-तार कर दिया. नामांकन के दौरान किस तरह पुलिस मौजूदगी में गठबंधन प्रत्याशियों को सरेआम पीटा गया और उनके कपड़े फाड़े गए, सबने देखा है.

शुक्रवार को होने वाले योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में जाने के सवाल पर कहा कि रालोद मुखिया ने कहा, 'अव्वल तो उन्हें अभी निमंत्रण नहीं मिला है. अगर निमंत्रण मिलेगा भी तो मैं नहीं जाऊंगा. अब ऐसे समारोह में पहले जैसी बात नहीं रह गई है.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


एक सवाल के जवाब में जयंत ने कहा कि चुनाव में किसानों को गुंडा, मवाली और आतंकवादी के साथ ही अस्सी-बीस की बात कही गई. वह ऐसी विचारधारा वाले लोगों से दूर ही रहते हैं.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)