PM मोदी इस माह करेंगे यूपी के कई दौरे, गोरखपुर और बनारस के कार्यक्रम में शामिल होंगे

सात दिसंबर को पीएम गोरखपुर में HURL के खाद कारख़ाने को राष्ट्र को समर्पित करेंगे. गोरखपुर में ही एम्स का भी उद्घाटन करेंगे. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के क्षेत्र में यह कार्यक्रम एक बजे आयोजित होगा.

PM मोदी इस माह करेंगे यूपी के कई दौरे, गोरखपुर और बनारस के कार्यक्रम में शामिल होंगे

पीएम मोदी 7 दिसंबर को गोरखपुर में कार्यक्रम में शामिल होंगे

नई दिल्‍ली :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) इस माह फिर उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh)के कई दौरे करेंगे. इसकी शुरुआत गोरखपुर से होगी. सात दिसंबर को पीएम गोरखपुर में HURL के खाद कारख़ाने को राष्ट्र को समर्पित करेंगे. गोरखपुर में ही एम्स का भी उद्घाटन करेंगे. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के क्षेत्र में यह कार्यक्रम एक बजे आयोजित होगा. इस मौके पर पीएम एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे. दिसंबर के दूसरे सप्ताह में भी पीएम मोदी यूपी के दौरे पर रहेंगे. वे अपने संसदीय क्षेत्र बनारस में काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का उद्धाटन करेंगे. गौरतलब है कि आबादी के लिहाज से देश के सबसे बड़े राज्‍य यूपी में अगले वर्ष विधानसभा चुनाव होने हैं. 

'अयोध्या-काशी जारी है, मथुरा की तैयारी है', UP चुनाव से पहले हिन्दुत्व एजेंडे पर लौटी BJP

पीएम ने पिछले माह नोएडा के जेवर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास किया था. यह एशिया का सबसे बड़ा इंटरनेशनलएयरपोर्ट बताया जा रहा है. शिलान्‍यास कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा था कि  हवाई अड्डे के निर्माण के दौरान रोज़गार के हजारों अवसर बनते हैं. हवाई अड्डे को सुचारु रूप से चलाने के लिए भी हज़ारों लोगों की आवश्यकता होती है. उन्‍होंने कहा कि पश्चिमी यूपी के हजारों लोगों को ये एयरपोर्ट नए रोजगार भी देगा.पहले की सरकारों ने जिस उत्तर प्रदेश को अभाव और अंधकार में बनाए रखा. पहले की सरकारों ने जिस उत्तर प्रदेश को हमेशा झूठे सपने दिखाए, वही उत्तर प्रदेश आज राष्ट्रीय ही नहीं, अंतर्राष्ट्रीय छाप छोड़ रहा है.

वैक्सीन लगवाओ, टीवी-फ्रिज जीतकर ले जाओ : कोविड वैक्सीनेशन बढ़ाने के लिए मिल रहे ऑफर


नवंबर में ही पीएम ने यूपी में 340 किलोमीटर लंबे पूर्वांचल एक्‍सप्रेसवे का उद्घाटन किया था. उन्‍होंने कहा था कि इस एक्‍सप्रेसवे की विशेषता यही नहीं है कि यह यूपी के कुछ खास जिलों को जोड़ेगा, इसकी विशेषता यह है कि यह लखनऊ से उन स्‍थानों को जोड़ेगा जहां विकास की बहुत अधिक संभावना है. यह एक्‍सप्रेसवे भविष्‍य में लाखो करोड़ो के उद्योगों को यहां लाने का साधन बनेगा.यह एक्‍सप्रेसवे गरीबों, मध्‍य वर्ग और किसानों के लिए फायदेमंद साबित होगा. 

यूपी चुनाव में BSP की नजर अब अनुसूचित जाति के वोटों पर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com