अखिलेश यादव के चुनावी गीत में कोरोना से निपटने को लेकर योगी सरकार की आलोचना

2022 के विधानसभा चुनाव से कुछ महीने पहले सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने 2 मिनट 19 सेकेंड का एक प्रचार वीडियो जारी किया है. इस वीडियो की टैग लाइन है- सुख दुःख में साथ निभाया है.सुख दुःख में साथ निभाएंगे.

अखिलेश यादव के चुनावी गीत में कोरोना से निपटने को लेकर योगी सरकार की आलोचना

यूपी चुनावों के मद्देनजर अखिलेश यादव ने जारी किया प्रचार गीत. सुख दुख में साथ निभाया है, सुख दुख में साथ निभाएंगे

लखनऊ:

2022 के विधानसभा चुनाव से कुछ महीने पहले सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने 2 मिनट 19 सेकेंड का एक प्रचार वीडियो जारी किया है. इस वीडियो की टैग लाइन है- सुख दुःख में साथ निभाया है.सुख दुःख में साथ निभाएंगे. इस वीडियो में जब अखिलेश यादव मुख्यमंत्री थे, उस दौरान की कई योजनाओं को दिखाया गया है.  साथ ही अप्रैल-मई के बीच राज्य में कोविड महामारी की दूसरी लहर के विनाशकारी प्रभावों के बीच यूपी की स्थिति पर तंज भी कसा गया है. ऑक्सीजन रिफिल केंद्रों के बाहर कतारें, गंगा में तैरते शव, अस्पतालों के बाहर तड़पते लोग.बता दें कि समाजवादी पार्टी ने यूपी चुनाव के लिए किसी भी गठबंधन से इंकार किया है. एनडीटीवी से बात करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि बड़ी पार्टियों के साथ मेरा अनुभव अच्छा नहीं है, मैं उनके साथ कोई गठबंधन नहीं करूंगा.

समाजवादी पार्टी यानी SP के प्रमुख अखिलेश यादव ने दावा किया है कि उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी को हार का सामना करना पड़ेगा. NDTV से बात करते हुए उन्‍होंने कहा कि यूपी की जनता बदलाव चाहती है.बातचीत के दौरान अखिलेश ने यूपी चुनाव के लिए मायावती की बहुजन समाज पार्टी (BSP) के साथ गठबंधन से इनकार किया और कहा कि हम छोटी पार्टियों के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगे. बीएसपी और कांग्रेस का जिक्र किए बिना अखिलेश ने कहा, 'बड़ी पार्टियों के साथ मेरा अनुभव अच्‍छा नहीं रहा है, हम उनके साथ कोई गठबंधन नहीं करेंगे.'

सपा प्रमुख ने कहा कि उनकी पार्टी राज्‍य की 430 विधानसभा सीटों में से 300 को (जीत के लिहाज से) टारगेट कर रही है. सपा प्रमख ने कहा कि राज्‍य की जनता अब बदलाव के मूड में है और बीजेपी को विधानसभा चुनाव में हार का सामना करना पड़ेगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्‍होंने दावा किया कि राज्‍य में जल्‍द ही समाजवादी पार्टी सत्‍ता में आने वाली है, गरीबों के लिए टीकाकरण फ्री किया जाएगा. स्‍वयं के कोरोना टीकाकरण को लेकर अखिलेश ने कहा, 'जब पूरे यूपी का टीकाकरण हो जाएगा उसके बाद मैं टीका लगवाऊंगा.'गौरतलब है कि यूपी में अगले वर्ष विधानसभा चुनाव होने हैं और इन चुनावों को राज्‍य की योगी आदित्‍यनाथ सरकार के लिए कठिन चुनौती माना जा रहा है. योगी आदित्‍यनाथ इस समय अपनी पार्टी में ही असंतोष का सामना कर रहे हैं, जिसे दूर करने की कोशिश में दिल्‍ली का शीर्ष नेतृत्‍व जुटा हुआ है.