'Ladakh clash'

- 160 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | Reported by: राजीव रंजन, Edited by: पवन पांडे |मंगलवार सितम्बर 28, 2021 10:44 AM IST
    सेना के आर्टिलरी के डीजी लेफ्टिनेंट जनरल चावला ने कहा कि पूर्वी लद्दाख में के-9 व्रज तोप की तैनाती भी की गई है. इससे मारक क्षमता में काफी इजाफा हो जाएगा. अब आसानी से सेना 18 से 52 किलोमीटर तक लक्ष्य को भेद सकती है. चावला ने कहा कि सेना को हल्की गन और चाहिए.
  • India | Reported by: विष्णु सोम, Translated by: आनंद नायक |मंगलवार अगस्त 3, 2021 08:03 PM IST
    India-China standoff: भारत और चीन की ओर से सोमवार को जारी किए गए साझा बयान (India and China issued a joint statement) के कुछ ही घंटों बाद ये विजुअल्‍स सामने आए हैं. साझा बयान में कहा गया है कि पूर्वी लद्दाख में तनाव को कम करने के लिए वे कमांडर स्‍तर की सैन्‍य वार्ताजारी रखेंगे.
  • India | Edited by: राहुल सिंह |मंगलवार जून 15, 2021 09:15 PM IST
    लद्दाख (Ladakh) स्थित गलवान घाटी में हुई हिंसा (Galwan Valley Clash) को आज (मंगलवार) एक साल हो गया है. पिछले साल 14-15 जून की दरमियानी रात चीनी सैनिकों के साथ हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवानों को अपनी जान गंवानी पड़ी थी. इस हिंसक झड़प में चीन के भी कई सैनिक मारे गए थे. गलवान हिंसा के शहीदों को याद करते हुए भारतीय सेना (Indian Army) ने उन्हें एक गीत समर्पित किया है और इसे सेना के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से शेयर किया गया है.
  • India | Reported by: राजीव रंजन |शनिवार फ़रवरी 20, 2021 11:02 AM IST
    India-China Core Commander level talks : भारत और चीन के कोर कमांडर स्तर के अधिकारियों की बातचीत शनिवार को सुबह दस बजे चुशूल के दूसरी ओर चीन के इलाके मोलडो में होगी. बातचीत का मुख्य एजेंडा गोगरा , हॉट स्प्रिंग और देपसांग इलाका होगा.
  • India | Edited by: आनंद नायक |शुक्रवार फ़रवरी 19, 2021 08:10 PM IST
    Galwan Valley Clash: चीन के सरकारी मीडिया ने पिछले साल गलवान में हुए संघर्ष का वीडियो जारी किया है, इस वीडियो में सैकड़ों की संख्‍या में भारतीय और चीन सैनिक पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में एक-दूसरे से भिडते हुए देखा जा सकता है.
  • World | Reported by: भाषा |रविवार दिसम्बर 20, 2020 03:11 PM IST
    Eastern Ladakh Clash: पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच मई से गतिरोध जारी है. दोनों देशों के बीच तनाव को कम करने के लिए कई दौर की सैन्य बैठकें हो चुकी है, लेकिन अब तक कोई ठोस नतीजा नहीं निकला है. इस बीच पीएलए की पश्चिमी कमान में शीर्ष स्तर पर यह नई नियुक्त की गई है.
  • India | Edited by: राहुल सिंह |शनिवार दिसम्बर 19, 2020 01:33 PM IST
    Eastern Ladakh Clash: राजनाथ सिंह ने आगे कहा, 'नदन सेक्टर में हाल ही में हुए भारत-चीन विवाद से आप सभी परिचित हैं. कोविड जैसे संकट के समय में चीन का यह रवैया उस देश की नीयत को दिखाता है. हमने यह दिखा दिया है कि अब यह हमारा भारत कोई कमजोर भारत नहीं है. यह एक नया भारत है जो किसी भी तरह के ट्रांसग्रेशन, एग्रेशन या सीमाओं पर किसी भी तरह के यूनिलैटरल एक्शन का माकूल और मुक्कमल जवाब देने की कूवत रखता है.'
  • India | Reported by: भाषा |शुक्रवार अक्टूबर 30, 2020 09:19 AM IST
    श्रीवास्तव ने 12 अक्टूबर को भारतीय और चीनी सेनाओं के बीच हुयी सैन्य वार्ता के अंतिम दौर का जिक्र करते हुए कहा कि इससे दोनों पक्षों के बीच गहन विचार-विमर्श हुआ और एक-दूसरे के रूख को लेकर समझ बढ़ी. उन्होंने कहा, ‘‘दोनों पक्ष सैन्य और राजनयिक माध्यमों से बातचीत जारी रखने और जितनी जल्दी हो सके, सैनिकों की वापसी के लिए पारस्परिक रूप से स्वीकार्य समाधान पर पहुंचने के लिए सहमत हुए थे.’’ 
  • India | Reported by: कादम्बिनी शर्मा, विष्णु सोम, Edited by: राहुल सिंह |बुधवार अक्टूबर 28, 2020 10:58 AM IST
    भारत-चीन (India China Clash) के बीच लद्दाख (Ladakh) में सीमा विवाद पर अमेरिका (America) ने एक बार फिर चीन को आईना दिखाते हुए भारत का साथ दिया है. अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पिओ (Mike Pompeo) ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh), विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) से मुलाकात के बाद कहा कि अमेरिका भारत की ओर से अपनी अखंडता के लिए किए जा रहे कदमों में उसके साथ खड़ा है. अमेरिकी विदेश मंत्री के इस बयान से चीन तिलमिला गया और बयान जारी करते हुए कहा कि यह दो देशों के बीच का द्विपक्षीय मामला है और इसमें किसी भी तीसरे पक्ष के दखल के लिए कोई जगह नहीं है.
  • India | Reported by: राजीव रंजन, Edited by: राहुल सिंह |बुधवार अक्टूबर 21, 2020 07:49 AM IST
    भारत-चीन (India China Clash) के बीच LAC पर तनातनी जारी है. बीते सोमवार एक चीनी सैनिक LAC पर भटकता हुआ पहुंच गया था, जिसे भारतीय सेना ने पकड़ लिया था. PLA सैनिक को पूर्वी लद्दाख के चुमार-डेमचोक इलाके में पकड़ा गया था. मंगलवार रात लद्दाख इलाके में पकड़े गए उस चीनी सैनिक को भारत ने चीन को वापस किया. मंगलवार देर रात को चुशूल मोलडो मीटिंग पॉइंट पर चीन को सौंपा गया. चीनी सैनिक का नाम वांग या लोंग था.
और पढ़ें »
'Ladakh clash' - 64 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com